ENG | HINDI

ये प्रत्याशी घूम घूम कर कह रहा है प्लीज मुझे वोट मत देना

रामकुमार कश्यप

आपने अक्सर सुना होगा कि चुनाव आते ही प्रत्याशी घर घर जाकर लोगों से उसे ही वोट देने की अपील करतें हैं.

लेकिन क्या आप ने कभी सुना है कि कोई प्रत्याशी घर घर जाकर लोगों से कह रहा है कि कृपया उसे वोट मत देना.

इन दिनों उत्तर प्रदेश में विधान सभा चल रहे हैं और यहां सहारनपुर जिले में एक विधान सभा है नकुड़.

नकुड़ में चौधरी अजीत सिंह की पार्टी राष्ट्रीय लोकदल के प्रत्याशी रामकुमार कश्यप कुछ दिन पहले तक चुनाव मैदान में थे. और वे लोगों से घर घर जाकर अपने लिए वोट मांग रहे थे.

लेकिन पिछले दो दिनों से नकुड़ से राष्ट्रीय लोकदल के प्रत्याशी रामकुमार कश्यप एक बार फिर उन्हीं घरों पर जा रहे हैं जहां पहले वो खुद को विजयी बनाने के लिए वोट मांगने गए थे.

लेकिन इस बार वे खुद को विजयी बनाने के लिए बल्कि खुद को वोट नहीं देने के लिए लोगों के हाथ जोड़ रहे हैं. वे लोगों से कह रहे हैं कि प्लीज मुझे वोट मत देना.

दरअसल, नकुड़ विधानसभा से राष्ट्रीय लोकदल के टिकट पर चुनाव लड़ रहे रामकुमार कश्यप ने भाजपा प्रत्याशी के समर्थन में चुनाव से हटने की घोषणा कर दी. उनका कहना है कि वे अब भाजपा के लिए प्रचार करेंगे लिहाजा लोग उनके बदले भाजपा प्रत्याशी को ही वोट दें. उनके नाम के आगे बटन दबाकर वे अपना बहुमूल्य वोट बेकार न करें.

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के सामने भाजपा ज्वाइन करने वाले रामकुमार कश्यप का आरोप है कि गंगोह विधानसभा क्षेत्र में चौधरी अजित सिंह की मौजूदगी में रालोद के एक नेता ने उन्हें मां बहन की गालियां दी, जिससे खिन्न होकर उन्होंने चुनाव से हटने का मन बना लिया है.

अब वे रालोद से अपना नाता तोड़कर भाजपा के साथ हो गए हैं. इस खबर से इस सीट पर जूझ रही भाजपा को एक प्रकार से संजीवनी मिल गई है. जैसे ही मंच पर यह घोषणा हुई कि रालोद के प्रत्याशी ने भाजपा के समर्थन में चुनाव से हटने का फैंसला किया है भाजपा के लोगों के चेहरे खिल गए. जबकि वहीं इस कदम से विपक्ष के सारे समीकरण गड़बड़ा गए है.

Don't Miss! random posts ..