ENG | HINDI

इस वजह से मॉल में पब्लिक हैंड ड्रायर का नही करना चाहिए इस्तेमाल

पब्लिक हैंड ड्रायर

पब्लिक हैंड ड्रायर – हर उम्र के लोगों को खाना खाने से पहले हाथ धोने की सलाह दी जाती है। ये बेसिक एटिकेट्स है जो सभी को मानने जरूर हैं।

वैज्ञानिकों का भी कहना है कि 80 फीसदी संक्रमण हाथों के माध्‍यम से फैलता है लेकिन हाथ धोने के बाद उन्‍हें सुखाना भी जरूरी होता है।

घर पर तो हम सभी हाथ धोने के बाद तौलिये का इस्‍तेमाल करते हैं लेकिन ऑफिस, रेस्‍टोरेंट या मॉल में पब्लिक हैंड ड्रायर का प्रयोग करते हैं। हाथ सुखाने का ये तरीका काफी स्‍वच्‍छ लगता होगा लेकिन असल में ऐसा नहीं है।

पब्लिक हैंड ड्रायर से गर्म हवा के थपेड़े इनक्‍यूबेटर हैं और से जीवाणु और महामारी फैलाते हैं। हाथों को धोने के बाद भी उन पर थोड़ा बैक्‍टीरिया रह जाता है। टिश्‍यू से हाथ पोंछने पर कुछ रोगाणु टिश्‍यू पर लग जाते हैं लेकिन हैंड ड्रायर से कीटाणु हवा में फैल जाते हैं और ड्रायर से भी चिपक जाते हैं।

जब कोई दूसरा व्‍यक्‍ति पब्लिक हैंड ड्रायर का प्रयोग करता है तो वो रोगाणु उसके हाथों में आ जाते हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि एयर ड्रायर के आसपास हवा में बैक्‍टीरिया की संख्‍या नियमित हवा की तुलना में 45 गुना अधिक होती है और टिश्‍यू के चारों और हवा की तुला में 27 गुना अधिक होती है।

हाथ धोने के बाद उन्‍हें सुखाने के लिए पेपर नैपकिन का प्रयोग करें और साबुन की जगह लिक्विड हैंडवॉश यूज़ करें। इसके अलावा हैंड सैनिटाइज़र भी अच्‍छे होते हैं। इससे जमी हुई चीज़ों और गंदगी से छुटकारा तो नहीं पाया जा सकता लेकिन ये कीटाणुओं को मारने में कारगर होता है।

सामान्‍य साबुन की जगह जीवाणुरोधी साबुन का प्रयोग करें। वास्‍तव में कुछ अध्‍ययनों में ये बात सामने आई है कि जीवाणुरोधी साबुन जैसे ट्रिकलोसन और ट्रिकलोकार्बन में कुछ अवयव लंबे समय तक सुरक्षित नहीं रहते हैं।

Don't Miss! random posts ..