ENG | HINDI

अपने दिमाग की इन शक्तियों को जान लें तो कुछ भी नहीं है नामुकिन

दिमाग की शक्तियाँ

दिमाग की शक्तियाँ – हमारा दिमाग बहुत तेज है लेकिन इसकी शक्‍तियों से अब तक हम अनजान हैं। आपका दिमाग क्‍या कुछ कर सकता है ये आप सोच भी नहीं सकते हैं।

आज हम आपको दिमाग की शक्तियाँ के बारे में –  कुछ ऐसे गजब तथ्‍यों के बारे में बताएंगें जिन्‍हें जानकर आपके होश ही उड़ जाएंगें।

दिमाग की शक्तियाँ –

  • दिमाग की शक्‍ति से एक लाइट बल्‍ब को भी जलाया जा सकता है।
  • अपने दिमाग की शक्‍तियों को पहचानने के लिए हमें कुछ तुलना करनी होगी। अगर हम दिमाग को दुनिया की सबसे पॉवरफुल चीज़ से कंपेयर करें यानि की कंप्‍यूटर तो हमें पता चलता है कि कंप्‍यूटर तो हमारे दिमाग के आगे कुछ भी नहीं है। हमारा दिमाग किसी सुपर कंप्‍यूटर से कम नहीं है। ये मोबाइल, प्रोसेसर जैसी चीज़ो से भी ज्‍यादा फास्‍ट है।

  • कई आर्टिफिशियल टेस्‍ट में पता चला है कि हमारा दिमाग दुनिया के सुपर कंप्‍यूटर से 30 गुना ज्‍यादा तेज है।
  • इंसानी दिमाग किसी चमत्‍कार से कम नहीं है और एक कंप्‍यूटर की एवरेज में हज़ारों गाने, फोटो और फिल्‍म्‍स को स्‍टोर करके रखा जा सकता है।  
  • अगर आप खुद को अमीर और सक्‍सेसफुल बनाना चाहते हैं और उसके बारे में ही सोचते हैं तो एक ना एक दिन आप ये कर भी सकते हैं। अभी के लिए आप इतना जान लो कि आज जो सक्‍सेसफुल और अमीर आदमी है वो डायरेटली और इनडायरेक्‍टली अपे सबकॉन्शियस माइंड यानि अवचेतन मन को कंट्रोल करना जानता है।
  • अगर कोई आपसे पूछे कि आप किसलिए जी रहे हैं तो आप कहेंगें खुशी। जब आप सकारात्‍मक सोचते हैं तो उस समय आप एक ऊंचे वाइब्रेशन में चलते जाते हैं और इसीलिए जिंदगी में अच्‍छी चीज़ें होती हैं।
  • सकारात्‍मक बातें अवचेतन मन को पूरी तरह से सक्रिय कर देती हैं और अगर आप जीवन में कुछ भी पाना चाहते हैं तो उसके लिए अपने दिमाग को जगा दें। अगर दिमाग में एक बात फिट हो गई तो आपको उसे पाने से कोई नहीं रोक सकता है।

  • न्‍यूरोसाइंस की मानें तो हमारे दिमाग में भी कंप्‍यूटर की तरह सूचना को मिटाने के लिए एक डिलीट बटन होता है। तंत्रिका विज्ञान की भाषा में इसे न्‍यूरो सर्किट कहा जाता है। वैज्ञानिकों का कहना है कि हमारे दिमाग में भी एक ऐसा परिपथ होता है जिसकी मदद से हम बुरी यादों को हमेशा के लिए मिटा सकते हैं।
  • वैज्ञानिकों का कहना है कि दिमाग में पुरानी यादों की छटनी का काम चलता रहता है। लेकिन ये डिलीट का बटन एकसाथ कई सारी यादों को मिटा सकता है। दिमाग की किसी पुरानी घटना को भूलने की क्षमता को अंतर्ग्रथनी छंटाई कहते हैं। अकसर जब भी हम सोते हैं तो दिमाग उन पुरानी यादों को डिलीट कर देता है जिनका हम काफी समय से उपयोग नहीं कर रहे हैं।

इसका मतलब है कि आप अपने दिमाग से कड़वी यादों तक को मिटा सकते हैं। ये बिलकुल वैसे ही काम करता है जैसे कि कंप्‍यूटर में डिलीट का बटन।

ये है दिमाग की शक्तियाँ – अगर आप अपने दिमाग का सही इस्‍तेमाल करना चाहते हैं तो अपने अवचेतन मन को जगा लें और फिर देखें आप जो सोचेंगें वो आपको जरूर मिल जाएगा और आपकी मुट्ठी में होगा।

Article Categories:
क्रिएटिव

Don't Miss! random posts ..