ENG | HINDI

जीन्स के नये ट्रेंड में ‘ प्लास्टिक जीन्स ’ को क्या आपने मारकेट में देखा है?

प्लास्टिक जीन्स

अगर जीन्स पहनने के शौकीन यह मानते हैं कि वो जीन्स के हर लेटेस्ट डिज़ाइन को पहन चुकें है।

तो उनका यह सोचना गलत है क्योंकि इन दिनों मार्किट में एक अलग ही डिज़ाइन की चर्चा हो रही है। जो डेनिम फैब्रिक या जीन्स के अन्य फैब्रिक से तैयार नहीं हुआ है। बल्कि यह जीन्स के इतिहास में अबतक का अलग इनोवेशन है।

बात करें जीन्स के बारे में तो यह ट्रांसपेरेंट जीन्स, प्लास्टिक से तैयार हुई है। जिसे प्लास्टिक जीन्स के नाम से मार्किट में पहचाना जा रहा है।

जी हां आप सही सुन रहे हैं। मार्किट में प्लास्टिक की जीन्स आ चुकी है। इसकी तस्वीर देखने पर आपको एक नजर में कुछ दिखाई नहीं देगा फिर ध्यान से देखने पर जीन्स नज़र आ ही जाएगी। जोकि डेनिम नहीं बल्कि प्लास्टिक है। अब भला इसे जीन्स कैसे कह सकते हैं। जबकि मार्किट में डेनिम जीन्स बड़ा ब्रांड है। खैर यह तो कोई फैशन डिजाइनर ही बेहतर बता सकता है।

जीन्स देखते ही आप इस रेनकोट जैसा मानेंगे, मगर क्या आप भूल गए हैं ? लोग तो रिप्ड जीन्स पहनने पर भी लोगों को घूरना नहीं भूलते हैं। तो सोचिए प्लास्टिक की जीन्स पर आपको कैसे-कैसे कमेंट्स का सामना करना पड़ेगा। प्लास्टिक जीन्स की बात करें तो  कई लोग जीन्स को रेनकोट जैसा मान रहे हैं। वह इसलिए कि इसमें कपड़े नज़र आते हैं।

इन सब के बाद सवाल उठता है कि भला इसे डिजाइन करने की क्या जरूरत थी ?। तो इसका जवाब लोगों की क्रिएटिविटी को जाता है। क्योंकि देश में सृजनात्मक लोगों की भरमार है और ऐसे लोग कब क्या नया सोच दें, यह कहा नहीं जा सकता है।

हालांकि भारत में प्लास्टिक जीन्स जैसा ट्रेंड भले ही आए, मगर देश के बहुत से लोग ठंड या बारिश के दिनों में, सड़क पर रहने वाले लोग प्लास्टिक से बने वस्तुओं का ही इस्तेमाल करते हैं। ज़रा सोचिए, भारत जैसे देश में जहां बेहद गर्मी पड़ती है वहां अगर किसी ने गलती से भी यह जीन्स पहन ली तो उसका क्या होगा ?।

बहरहाल प्लास्टिक जीन्स पर प्रतिक्रियाएं भी आयी हैं। और अधिकतर लोगों का एक ही सवाल है कि इस जीन्स का क्या मतलब है।

अब इस जीन्स का क्या मतलब है, यह सवाल हम भी पूछ रहे हैं। मगर डेनिम जीन्स के शौकीन शायद, शौक में प्लास्टिक जीन्स को भी पहन लें ! ।

 

Don't Miss! random posts ..