ENG | HINDI

मैच से पहले कश्मीर में बजाया गया पाकिस्तान का राष्ट्रगान

पाकिस्तान का राष्ट्रगान

कश्मीर में पाकिस्तान का राष्ट्रगान – अक्सर देखा जाता है कि अपने घर में कितना भी कलेश क्यों न हो लेकिन जब भी अपने घर पर कोई मुसीबत आती है तो घर के सभी सदस्य एक हो जाते हैं । और मिलकर परेशानियों का सामना करते हैं।

लेकिन कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जो अपने घर की बर्बादी के खुद कारण बनते हैं । जैसे की कश्मीर के वो लोग जो रहते तो भारत में हैं । लेकिन साथ उन आतंकवादियों को देते हैं । जो हमारे देश की बर्बाद चाहते हैं । जिनकी वजह से रोजाना न जाने के कितने परिवारों को अपने जवान बेटों को सरहद पर खोना पड़ता हैं ।

लेकिन इसके बावजूद जब हमारा कोई जवान शहीद होता है । तो उनका परिवार रोता नहीं है बल्कि गर्व महसूस करता है कि उनके बेटे को शहादत मिली हैं । इसे सच्ची देशभक्ति होती हैं ।

पाकिस्तान का राष्ट्रगान

जब भी राष्ट्रगान बजता है हम भी उस अपने देश की खूबियों रंग त्याग से अवगत होते है और सम्मान से राष्ट्रगान गाते हैं । लेकिन हमारे देश में ऐसे भी कई लोग हैं जो अपने देश के राष्ट्रगान को इज्जत देने की बजाए दूसरे देश के राष्ट्रगान को गा रहे हैं। ये मामला कश्मीर के एरिन गांव का है । जहां एक क्रिकेट मैच से पहले पाकिस्तान का राष्ट्रगान बजाया गया । ये खबर शर्मिंदगी से ज्यादा अफसोस करने पर मजबूर करती है । क्योंकि इन्ही लोगों की सुरक्षा के हमारे जवान अपने परिवारों से दूर रात -दिन कश्मीर में तैनात रहते हैं ।

दरअसल कश्मीर हर बार की तरह एक बार फइर पाकिस्तान के लिए प्रेम देखने को मिला । लेकिन इस बार पत्थरबाजी के जरिए नहीं बल्कि क्रिकेट ग्राउंड पर मैच से पहले भारत का राष्ट्रगान की जगह पाकिस्तान का राष्ट्रगान बजाकर । जोकि बहुत ही शर्मनाक था । इस हरकत को मैदान में मौजूद लोगो ने अपने फोन में रिकॉर्ड कर लिया था जिसके बाद इसे सोशल मीडिया पर डाल दिया गया ।

पाकिस्तान का राष्ट्रगान

वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने इस मामले में 4 खिलाड़ियों को गिरफ्तार कर लिया है । जिन्होनें ये हरकत की ।

आपको बता दें कश्मीर के एरिन गावं में आयोजित इस मैच में पाकिस्तान का राष्ट्रगान चलने के बाद चारों आरोप खिलाड़ी सम्मानपूर्वक खडे़ नजर आए ।हालांकि इस मैच को आयोजित करने वाले आयोजकों का भी तक पता नहीं चल पाया है । लेकिन मैच के आयोजकों की तलाश कर रही हैं. हालांकि पाकिस्तान के लिए कश्मीर के इन लोगों का प्रेम पहली बार देखने को नहीं मिला हैं ।

इसे पहली  भी कश्मीर में ऐसी ओछी हरकतें हो चुकी हैं । इसे पहले 2016 में भी गांदरबल में भी एक मैच के दौरान पाकिस्तानी राष्ट्रगान बजाया गया था । और सलामी भी दी गई थी  । उस वक्त भी पुलिस ने कुछ खिलाड़ियों को गिरफ्तार किया था । जिसके बाद उनके माता पिता ने ये आश्वासन देकर अपने बच्चो को छुड़वाया था कि वो भविष्य में ऐसी हरकतें नहीं करेंगे ।

आपको बता दें हिजबुल मजुहीद्दीऩ और दूसरे आतंकी संगठनों में शामिल होने वाले ज्यादातार जवान लड़के कश्मीर के ऐसे ही छोटे गरीब घरों से होते हैं, जो खेल पढ़ाई में अच्छे होते हैं. लेकिन उनका माइंड वॉस करके उन्हें आतंकी बना दिया जाता हैं ।

भले ही अभी ये अपराध सिर्फ पाकिस्तान का राष्ट्रगान चलाने का लग रहा हो । लेकिन अगर इन छोटे छोटे अपराधों को नजर अंदाज कर दिया जाए तो आगे चलकर ये इन लड़को के लिए  और हमारे देश दोनो के लिए खतरनाक साबित हो सकता हैं।

Don't Miss! random posts ..