ENG | HINDI

नार्थ कोरिया विश्व के इन 3 देशों पर कर सकता है परमाणु हमला !

परमाणु युद्ध

अमेरिका समेत दुनिया के 3 देशों पर परमाणु युद्ध का खतरा मंडराने लगा है.

यहां यह बात इसलिए महत्वपूर्ण है क्योंकि आप दुनिया के नक्शे पर नजर डालिए इस वक्त अफ्रीका से लेकर पश्चिमी एशिया और पूर्वी एशिया में आपको कोई ऐसा स्थान नहीं मिलेगा जहां तनाव अपने चरम पर न हो.

इन सब में पूर्वी एशिया और पश्चिमी एशिया दो ऐसे स्थान स्थान है जो इन दिनों परमाणु युद्ध के बारूद  के ढ़ेर पर बैठे हैं. किसी भी वक्त धमाका हो सकता है.

लेकिन इन सबमें यदि परमाणु बम का सबसे अधिक खतरे की बात करे तो पूर्वी एशिया में नार्थ कोरिया एक ऐसा देश है जिसके सनकी तानाशाह शासक किम जोंग उन की सनक कभी भी दुनिया को परमाणु खतरे की जद में धकेल सकती है.

यदि ऐसा हुआ तो अमेरिका के साथ दक्षिण कोरिया और जापान ऐसे देश होंगे जो नार्थ कोरिया के परमाणु हमले का शिकार बन सकते हैं.

दरअसल, अमेरिका के राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप की ओर से ट्वीट किए जाने के बाद उत्तर कोरिया ने चेतावनी दी है कि अमेरिका पूरी दुनिया को थर्मो-न्यूक्लियर वॉर के मुहाने पर ले जा सकता है. अमेरिका के उकसाने से किसी भी वक्त परमाणु युद्ध छिड़ सकता है.

आपको बता दें कि डॉनल्ड ट्रंप ने अपने ट्वीट में कहा था कि मैंने चीनी राष्ट्रपति को बता दिया है कि वे अमेरिका के साथ यदि अच्छे कारोबारी समझौते चाहते हैं तो उन्हें उत्तर कोरिया की समस्या से निपटना होगा.

एक और ट्वीट में उन्होंने कहा, उत्तर कोरिया मुश्किल खड़ी करना चाहता है. यदि चीन मदद करता है तो बेहतर होगा. यदि ऐसा नहीं होता है तो हम उनके बिना ही समस्या का समाधान करेंगे.

यानी उत्तर कोरिया को सबक सिखा दें.

वहीं प्योंगयांग यानी नार्थ कोरियों के वाइस मिनिस्टर हान सॉन्ग रयोल ने ट्रंप पर तनाव पैदा करने का आरोप लगाते हुए चेतावनी दी है कि यदि वह ऐसा चाहते हैं तो हम युद्ध के लिए तैयार हैं.

इतना ही नहीं उन्होंने कहा कि उत्तर कोरिया अपने परमाणु कार्यक्रम को जारी रखेगा और जब उनके नेताओं को सही लगेगा, इनका परीक्षण किया जाएगा.

दूसरी तरफ चीन के विदेश मंत्री वांग यी ने अमेरिका की ओर इशारा करते हुए कहा कि यदि कोई उत्तर कोरिया को उकसाता है तो उसे कीमत चुकानी होगी. यानी उसको परमाणु हमले का और परमाणु युद्ध का सामना करना पड़ेगा.

आपको बता दें कि उत्तर कोरिया अपने संस्थापक किम इल संग की जयंती के मौके पर आयोजित नैशनल डे पर न्यूक्लियर हथियारों की लॉन्चिंग कर सकता है.

दरअसल, उत्तर कोरिया को लगता है कि अमेरिका जिस प्रकार कोरियाई प्रायद्वीप में दखल दे रहा है, उससे यहां किसी भी वक्त युद्ध भड़क सकता है. क्योंकि यह ऐसा क्षेत्र है, जहां बड़े पैमाने पर न्यूक्लियर हथियार हैं.

यदि अमेरिका का दखल बढ़ता है तो आने वाले वक्त में युद्ध के हालात पैदा हो सकते हैं और फिर इससे अमेरिका दक्षिण कोरिया और जापना भी अछूता नहीं रहेंगे.

Don't Miss! random posts ..