ENG | HINDI

अमेरिका में अब मुसलमानों के ‘अच्छे दिन’ ख़त्म?

No Outside Muslim In USA

जी हाँ आप बिलकुल सच पढ़ रहे है.

यदि अगले चुनावों के बात अमेरिका में ऐसा अध्यादेश आ जाये जिसके अंतर्गत वहां बाहर से आने वाले मुसलमानों पर रोक लग जाए. या फिर मुसलमानों के आने के लिए कठोर नियम और कानून बना दिए जाए.

डोनाल्ड ट्रम्प इस नाम से तो शायद आप अब तक वाकिफ हो चुके होंगे.  डोनाल्ड ट्रम्प ने रिपब्लिकन पार्टी की  ओर से अपनी दावेदारी प्रस्तुत की है.

यदि आंतरिक चुनावों में ट्रम्प जीत जाते है तो रिपब्लिकन पार्टी के आधिकारिक उम्मीदवार ट्रम्प होंगे.

donald trump

जब से ट्रम्प ने अपनी दावेदारी प्रस्तुत की है तब से ही वो चर्चा में है.

ट्रम्प के भाषण और बयान बहुत ही ज्यादा कड़े और भड़काने वाले है.

उन्होंने अपनी दावेदारी के लिए नाम देते ही कहा था कि यदि वो राष्ट्रपति बनते है तो अमेरिका में बाहर से आने वाले मुसलामानों पर प्रतिबन्ध लगा दिया जाएगा. इसके अलावा उन्होंने ये भी कहाँ कि दुसरे देशों से गैरकानूनी रूप से आये लोगों पर भी कार्यवाही की जायेगी.

इन सब बयानों के चलते पूरी दुनिया में ट्रम्प का विरोध किया जा रहा है.

लेकिन ISIS और अन्य आतंकी संगठनों की वजह से दुनिया भर में इस्लामिक कट्टरपंथ का जो चेहरा नज़र आ रहा है उसके चलते ट्रम्प की बातों का समर्थन करने वाले भी बहुत संख्या में है.

ट्रम्प अमेरिका के माने हुए व्यापारियों में से है और उनके बयान अक्सर घृणा और कट्टरता से तो भरे होते है लेकिन साथ ही साथ वो लोगों की राष्ट्रवाद की भावना को भी पोसते है.

donald trump muslim ban

माना जा रहा है कि अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में मुख्य मुकाबला डेमोक्रेटिक पार्टी की तरफ से हिलेरी क्लिंटन और रिपब्लिक पार्टी कि ओर से डोनाल्ड ट्रम्प के बीच होगा.

पिछले दिनों आयोवा में डोनाल्ड ट्रम्प को करारी हार का मुंह देखना पड़ा था. लेकिन उसके बाद डोनाल्ड ट्रम्प ने ज़बरदस्त वापसी करते हुए लगातार तीन स्थानों पर रिपब्लिक पार्टी में उनके प्रतिद्वंदी मार्को रुबियो और टेड क्रूज़ को हरा दिया.

उम्मीदवारी के लिहाज़ से नेवादा बहुत ही अहम स्थान है और यहाँ ट्रम्प ने ज़बरदस्त जीत हासिल की है. नेवादा में ट्रम्प को करीब 47 % वोट मिले.

इस तरह ट्रम्प नेवादा, न्यू हैम्पशायर और साउथ कैरोलिना में जीत हासिल कर चुके है.

ट्रम्प की लगातार बढ़ती लोकप्रियता कुछ लोगों के अनुसार खतरे की घंटी है. ट्रम्प की नीतियां बहुत ही अलग है. कुछ लोग तो उनको तानाशाह तक कहते है.

अब देखना ये है कि अमेरिका के नागरिक किसे चुनते है.

यदि डोनाल्ड ट्रम्प अमेरिका के राष्ट्रपति बन जाते है तो अमेरिका में मुसलामानों के तो अच्छे दिन खत्म हो जायेंगे.

Don't Miss! random posts ..