ENG | HINDI

बाल ठाकरे के बाद अब ये है मुंबई की नई सरकार

मुंबई की नई सरकार

मुंबई की नई सरकार – महाराष्ट्र में सत्ता किसी भी दल की रही हो लेकिन जब तक शिव सेना प्रमुख जिंदा थे तब तक मुंबई की मायानगरी में सरकार बाला साहेब ठाकरे की ही चलती थी.

फिल्म दुनिया के झगड़े और विवाद जो पुलिस थानों और कचहरी में नहीं सुलझते थे. वो फैसले बाल ठाकरे की अदालत में चुटकियों में हो जाते थे. फिल्मी हीरों से लेकर निर्माता और निर्देशकों के फिल्मी से लेकर पारिवारिक झगड़े तक बाल ठाकरे आवास मातोश्री में सुलझाए जाते थे.

बाल ठाकरे के मरने बाद सभी को लगता था कि मुंबई में सरकार राज उन्हीं के साथ समाप्त हो गया है.

लेकिन हालके दिनों में बाल ठाकरे के भतीजे और महाराष्ट्र नव निर्माण सेना के प्रमुख ने जिस प्रकार मायानगरी बालीवुड में हस्तक्षेप किया, उसको देखते हुए लगने लगा कि मुंबई में एक बार फिर राज ठाकरे के रूप में नई सरकार दस्तक दे रही है.

हाल ही में बालीवुड के किंग खान यानी शाहरूख खान ने अपनी फिल्म को लेकर मनसे प्रमुख राज ठाकरे के दरबार में हाजिरी लगाई है. ये हाजिरी इसलिए लगाई है कि उनकी आने वाली फिल्म रईस के प्रमोशन में मनसे की ओर से कोई अड़ंगा न लगाया जाए.

दरअसल, खबर आई थी कि खान की फिल्म रईस का प्रमोशन फिल्म की लीड ऐक्ट्रेस माहिरा खान करने वालीहैं. माहिरा खान पाकिस्तान की कलाकार है. यही वजह थी कि शाहरुख खान ने राज ठाकरे से मिलकर उनको सफाई दी कि उनकी फिल्म रईस की लीड ऐक्ट्रेस माहिरा खान फिल्म का प्रमोशन नहीं करेंगी. क्योंकि शाहरूख खान को डर है कि यदि मनसे ने उनकी फिल्म में पाकिस्तानी कलाकार को लेकर आपत्ति की तो मुंबई सहित महाराष्ट्र में कोई भी सिनेमा मालिक जल्दी से उस फिल्म को अपने सिनेमा घर में चलाने की हिम्मत नहीं करेगा.

गौरतलब हो कि इसके पहले करण जौहर की फिल्म ए दिले मुश्किल को लेकर मनसे विवाद खड़ा कर दिया था.

मनसे ने भारत में आतंकवादी हमलों में पाकिस्तान की संलिप्तता का हवाला देते हुए हिंदी फिल्मों में पाकिस्तानी अदाकारों के काम करने का विरोध किया था. जिसके बाद उस फिल्म की मुंबई में रिलीज खटाई में पड़ गई थी.

करण जौहर ने राज ठाकरे के आवास पर जाकर उनको कुछ शर्तों के साथ फिल्म रिलीज करने के लिए मनाया था.

क्योंकि उस वक्त मुंबई के सिनेमा मालिकों ने राज ठाकरे की धमकी को देखते हुए उस फिल्म को पुलिस सुरक्षा मिलने के बावजूद भी अपने सिनेमा हाल में चलाने से मना कर दिया था.

यही वजह है कि शाहरूख खान को डर है कि कहीं उनकी फिल्म में पाकिस्तानी कलाकार माहिरा खान को लेकर मनसे ने विरोध कर दिया तो उनके लिए मुसीबत खड़ी हो जाएगी.

राज ठाकरे के मुंबई में बढ़ते दबदबे देखकर लगता है मुंबई की नई सरकार यही है.

शाहरुख ने माहिरा खान के प्रमोशन से जुड़ने की बात को अफ्वाह बताया बल्कि यहां राज ठाकरे को यहां तक सफाई दी कि माहिरा फिल्म के ट्रेलर रिलीज के दौरान भी मौजूद नहीं थीं।

बाल ठाकरे के बाद जिस प्रकार उनका भतीजा मुंबई की मायानगरी में हस्तक्षेप कर रहे हैं बल्कि राज की धमकी के आगे बॉलीवुड नतमस्तक हो रहा है उसको देखते हुए लोगों को लग रहा है कि आनेवाले समय में राज ठाकरे मुंबई बालठाकरे की जगह ले सकते हैं यानी मुंबई की नई सरकार बन सकती है.

Don't Miss! random posts ..