ENG | HINDI

मरियम मस्जिद -यहाँ औरतें नमाज़ अदा करती है- पुरुषों के प्रवेश पर है पाबन्दी!

मरियम मस्जिद

मरियम मस्जिद, ये मस्जिद दुनिया की बाकि मस्जिदों से एकदम निराली है.

पिछले दिनों हमारे देश भारत में नासिक के पास स्थित शनि शिग्नापुर मंदिर में महिलाओं को पूजा की इज़ाज़त ना देने और फिर इज़ाज़त देने के मामले में बहुत बवाल हुआ था. अंत में कोर्ट के आदेश पर महिलाओं को वहां पूजा करने की इज़ाज़त मिल ही गयी .

Mosque

कुछ मंदिर है जिनमें महिलाओं को पूजा करने की इज़ाज़त नहीं है लेकिन दुनिया भर की मस्जिदों में महिलाओं को नमाज़ अदा करने की सख्त मनाही है.

आज तक इस भेदभाव को खत्म करने के लिए कम से कम हमारे देश की महिलावादी औरतों ने ना कभी कोई कदम उठाया है ना ही इस बारे में कभी कोई चर्चा की है. मंदिरों में प्रवेश के लिए आन्दोलन आर लिया लेकिन मस्जिद में महिलाओं के प्रवेश की बात के मुद्दे पर चुप्पी साध ली जाती है.

अब डेनमार्क में महिलाओं ने एक ऐसा कारनामा कर दिखाया है जो पूरी दुनिया के कठमुल्लाओं के मुंह पर एक तमाचा है.

डेनमार्क की एक मुस्लिम महिला शेरीन खानकन जिनके पिता एक सीरियाई मुस्लिम और जिनकी माता एक ईसाई है ने एक ऐसी मस्जिद बनायीं है जिसके प्रबंधन से लेकर बाकि सब काम महिलाएं ही संभालती है.

इतना ही नहीं अन्य मस्जिदों में जहाँ इमाम पुरुष होते है वहीँ इस मस्जिद में इमाम भी एक महिला ही होगी. शेरीन खानकन ने इस मस्जिद का नाम मरियम मस्जिद रखा है.

denmark_mosque

मरियम मस्जिद की सबसे खास बात ये है कि ये मस्जिद पूरी तरह महिलाओं के लिए ही है. मरियम मस्जिद में पुरुषों के लिए कोई स्थान नहीं है. यहाँ ना केवल पुरुषों का नमाज़ पढना मना है बल्कि इस मस्जिद में पुरुषों के प्रवेश पर भी पाबन्दी है.

डेनमार्क की राजधानी कोपेनहेगन में इस मस्जिद का निर्माण किया गया है. मरियम मस्जिद को बनाकर शेरीन ने महिलाओं को मस्जिद में प्रवेश का अधिकार ना देने वाले मज़हब के ठेकेदारों को करारा जवाब दिया है.

आशा करते है कि हमारे देश में भी शनि मंदिर में पूजा का अधिकार हासिल करने वाली महिलाएं भी कुछ ऐसा कदम उठाकर एक उदाहरण प्रस्तुत करेंगी.

Don't Miss! random posts ..