ENG | HINDI

हाथों की उंगलियों के ये तिल उजागर करते हैं आपके जीवन के ये रहस्य !

हाथों की उंगलियों के तिल

हाथों की उंगलियों के तिल – आमतौर पर शरीर के विभिन्न अंगों पर मौजूद तिलों के बारे में कहा जाता है कि हर तिल का अपना एक अलग महत्व होता है. सामुद्रिक शास्त्र के अनुसार शरीर पर मौजूद हर एक तिल अपने आप में व्यक्ति के व्यक्तित्व से जुड़े रहस्य को उजागर करते हैं.

आम जनधारणाओं के अनुसार जिस व्यक्ति के पेट पर तिल होता है उसके बारे में कहा जाता है कि उसे जीवन में बहुत स्वादिष्ट भोजन मिलता है. जिसके मस्तिष्क पर तिल होता है उसे बहुत समझदार माना जाता है.

इसी कड़ी में आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि आपके हाथों की उंगलियों के तिल आपके जीवन के किन रहस्यों को उजागर करते हैं.

हाथों की उंगलियों के तिल –

1- अनामिका उंगुली

जिस व्यक्ति के अनामिका यानी रिंग फिंगर का संबंध सूर्य पर्वत से होता है इस उंगली के पहले भाग पर तिल मौजूद हो तो ऐसा व्यक्ति अपने ही कर्मों की वजह से अपनी सामाजिक प्रतिष्ठा को हानी पहुंचाने वाला होता है. ऐसे लोग गुस्सैल स्वभाव के होते हैं जिसकी वजह से उन्हें नुकसान झेलना पड़ता है.

इसी उंगली के दूसरे भाग पर तिल का होना कमजोर रिश्तों की ओर इशारा करता है. यह तिल बताता है कि आपका कोई भी रिश्ता मजबूती से आगे नहीं बढ़ पाएगा.

अनामिका अंग़ुली के तीसरे भाग पर तिल का होना इस बात का संकेत है कि वह व्यक्ति मानसिक रुप से कमजोर है और उसके अंदर आत्मविवास की कमी है.

2- कनिष्ठिका उंगली

कनिष्ठिका उंगली का संबंध बुध पर्वत से होता है. इस उंगली के पहले भाग में तिल हो तो ऐसा व्यक्ति धन का बहुत लालची होता है. हालांकि ऐसे लोग धन बहुत कमाते भी हैं बावजूद इसके धन को लेकर इनके भीतर लालच की अधिकता रहती है.

इसी उंगली के आखिरी भाग में तिल इस बात को दर्शाता है कि व्यक्ति दिमागी तौर पर बहुत तेज है और बहुत सोच-समझकर ही कोई फैसला लेता है. लेकिन ये तिल इस बात का भी संकेत देता है कि भविष्य में आपको कोई बड़ा नुकसान हो सकता है.

3- तर्जनी उंगली

तर्जनी उंगली का संबंध गुरु पर्वत से होता है. अगर इस उंगली के पहले भाग में तिल होता है तो यह इस बात की ओर इशारा करता है कि व्यक्ति अक्सर अहंकार में बात करता है.

इस उंगली के दूसरे भाग पर तिल तब होता है जब आपकी कुंडली में बृहस्पति या शुक्र ग्रह अशुभ फल देता है. कहा जाता है कि ऐसे लोग अपनी भावनाओं पर नियंत्रण नहीं रख पाते हैं और ना ही आसानी से किसी के साथ जुड़ पाते हैं.

जबकि इस उंगली के आखिरी भाग में तिल का होना यह दर्शाता है कि व्यक्ति का खान-पान गलत है. ऐसे लोगों के भीतर कुछ गलत आदते भी होती हैं.

4- मध्यमा उंगुली

मध्यमा अंगुली के नीचे शनि पर्वत होता है. इस उंगली के पहले भाग में मौजूद तिल बताता है कि इससे संबंधित व्यक्ति की निर्णय क्षमता बहुत मजबूत है और उसके द्वारा लिए गए फैसले उसके साथ-साथ दूसरों के लिए भी फायदेमंद होते हैं.

जबकि मध्यमा अंगुली के दूसरे भाग में तिल का होना कमजोर शरीर के साथ-साथ कमजोर रिश्तों के रहस्य को उजागर करता है.

मध्यमा अंगुली के तीसरे भाग में तिल का होना फेफड़ों के कमजोर होने की निशानी है. जो लोग लोहे या रसायन से संबंधित क्षेत्र से जुडे हैं,  उनके लिए तो यह तिल और ज्यादा खतरनाक है.

गौरतलब है कि हाथों की उंगलियों के तिल से उजागर होने वाले ये रहस्य पूरी तरह से ज्योतिषीय तथ्यों पर आधारित है और हम इसकी सत्यता का कोई दावा नहीं करते हैं.

Don't Miss! random posts ..