ENG | HINDI

मोदी कुछ ऐसे कर रहे हैं 2019 के चुनाव की तैयारी, विपक्ष भी है परेशान

2019 के चुनाव की तैयारी

मोदी को दूर की नजर वाला नेता बताया जाता है.

इसी कारण से आज के समय के यह एक सबसे सफल नेता हैं. जिस तरह से स्थिति को भांप कर अपनी योजनायें बनाते हैं वहीँ इनकी ताकत है. मोदी ने अन्य पार्टीयों से हटकर अभी से भी साल 2019 के चुनाव की तैयारी शुरू कर दी है. एक तरफ जहाँ विपक्ष अभी खुद को सँभालने की कोशिश कर रहा है वहीँ दूसरी तरफ मोदी ने आगामी योजनाओं पर काम करना भी शुरू कर दिया है.

आज हम आपको बताने वाले हैं कि साल 2019 के चुनाव की तैयारी के लिए नरेन्द्र मोदी किस तरह से काम कर रहे हैं. आपको जानकर हैरानी होगी कि मोदी खुद 2019 के चुनाव की तैयारी के लिए पेपर वर्क भी कर रहे हैं-

2019 के चुनाव की तैयारी –

1 – बीजेपी के सभी मुख्यमंत्री से की चर्चा

मोदी ने सबसे पहले बीजेपी के मुख्यमंत्री को अपने यहाँ आमंत्रित किया और उनके साथ राज्यों में जन जागरण की बात की है. मोदी ने साफ़ बता दिया है कि भारत निर्माण की सभी योजनाओं को जनता तक पहुचाया जाए. विपक्ष को किसी भी तरह का मौका नहीं देना है. भ्रष्टाचार को अपने राज्य से खत्म करने के लिए काम करना है. हर तरह का भ्रष्टाचार खत्म करना है और कानून व्यवस्था को बेहतर करना 2019 का प्लान है.

2 – अपने सांसदों की बना ली है लिस्ट

मोदी ने खुद कुछ ऐसे सांसदों की लिस्ट बना ली है जो सही से काम नहीं कर रहे हैं. असल में मोदी बार-बार अपने सांसदों का रिपोर्ट कार्ड बनवाते हैं. इसी से वह हिसाब लगाते हैं कि उनके नेता किस तरह से काम कर रहे हैं.  अब इसके बाद कुछ सांसदों को उन्होंने काम करने के लिए खुद चेताया और अब जो लोग सुधरने का नाम नहीं ले रहे हैं उनकी टिकट काटने का भी प्लान बना लिया गया है.

3 – कालेधन पर फिर होगा प्रहार

2019 के चुनावों में एक मुख्य मुद्दा काला धन होगा. इस पर जनता के सामने मोदी कुछ ना कुछ रिपोर्ट जरुर रखने वाले हैं. बचे हुए समय में अब मोदी इसी के ऊपर काम कर रहे हैं. निश्चित रूप से कालेधन पर कोई बड़ी कार्यवाही होने वाली है. देश में जिन लोगों ने अब 2000 के नोट जमा किये हैं उनपर भी कार्यवाही जरुर होने वाली है.

4 – सर्वे करवाने की होने वाली है तैयारी

साल 2019 के चुनावों से पहले मोदी कई बार सर्वे करवाना चाहते हैं. असल में यह सर्वे कुछ ऐसे होने हैं जो जनता की आवश्यकताओं से जुड़े रहने वाले हैं. जनता क्या मांग रही है और उनकी उम्मीद कैसी है कुछ ऐसे सर्वे होने वाले हैं. मोदी ने कुछ बड़ी योजनाओं को धरती पर उतारने की भी तैयारी कर ली है.

तो इस तरह से नरेन्द्र मोदी ने साल 2019 के चुनाव की तैयारी शुरू कर दी है. मोदी अगले आम लोकसभा चुनावों में भी किसी भी तरह की कमी करना नहीं चाहते हैं.

Don't Miss! random posts ..