ENG | HINDI

अरविन्द केजरीवाल ने कहा प्रधानमंत्री मोदी है कायर और सायकोपाथ.. ये है केजरीवाल का नया ड्रामा!

arvind-kejriwal

“प्रधानमंत्री मोदी जब लोकतांत्रिक रूप से कुछ नहीं कर सके तो उन्होंने मेरे दफ्तर पर रेड गिरवा दी.”

“प्रधानमंत्री मोदी है कायर और सायको “

पढ़कर चौंक गए न ? ये ट्वीट और किसी के नहीं दिल्ली के महान क्रांतिकारी मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के है.

आखिर क्या हुआ जो अरविन्द केजरीवाल इतना बौखला गए ?

आइये हम बताते है.

सूत्रों के मुताबिक आज CBI ने अरविन्द केजरीवाल के सचिव राजेंद्र कुमार पर लगे भ्रष्टाचार के आरोपों के सिलसिले में 14 जगह रेड मारी. जिनमे से एक राजेन्द्र कुमार का दफ्तर भी था जिओ अरविन्द केजरीवाल के दफ्तर के साथ ही है. इसके अलावा राजेन्द्र कुमार के घर पर भी रेड मारी गयी.

हमेशा मुद्दों और तथ्यों को घुमा फिराकर ऊल जुलूल बोलने वाले अरविन्द केजरीवाल ने यहाँ भी कोई मौका नहीं छोड़ा.

रेड पड़ते ही उनके ट्वीट पर ट्वीट आने लगे. वैसे ये कमाल की बात है कि एक राज्य का मुख्यमंत्री जब रेड पड़ रही हो तो ट्वीट कर रहा हो.

चलिए उस बात को जाने दीजिये.

अरविन्द केजरीवाल ने सीधे सीधे प्रधानमंत्री मोदी पर हमला करते हुए उन्हें पागल, डरपोक और सायको ना जाने क्या क्या कह डाला. लगता है अरविन्द केजरीवाल दिल्ली के मुख्यमंत्री शायद मोदी को कोसने के लिए ही बने है या फिर बनारस की हार उन्हें अब तक सता रही है.

केजरीवाल यहीं पर नहीं रुके ममता बनर्जी के ट्वीट के जवाब में उन्होंने कहा कि भारत में आपातकाल लग गया है.

जब सही खबर बाहर आई और लोगों को और मीडिया को पता चला कि इस रेड का मुख्यमंत्री दफ्तर से कोई लेना देना नहीं है, ये रेड शीला दिक्सित के कार्यकाल के समय के एक मामले के लिए मारी गयी है. राजेन्द्र कुमार पर आरोप है इसी के चलते उनके दफ्तर, उनके घर और करीब 14 जगहों पर रेड पड़ी है.

जब संसद में वित्त मंत्री ने ये बात बताई तो बौखलाए हुए केजरीवाल ने वित्त मंत्री को भी झूठ करार कर दिया.

वैसे केजरीवाल साब आप तो प्रधानमन्त्री को भी लोकपाल के दायरे में लाने वाले थे अब जब आपके सचिव के दफ्तर पर रेड पड़ी तो फिर इतना हंगामा क्यों?

आप दुनिया भर को ईमानदारी का सर्टिफिकेट बांटते रहते है तो फिर रेड पड़े उससे आपको क्या डर?

अगर आप और आपका सचिव इमानदार है तो हाथ कंगन को आरसी क्या पढ़े लिखे को फ़ारसी क्या?

मुख्यमंत्री है तो थोडा परिपक्व व्यवहार करिये ट्विटर पर चिल्लाने से लोगों को भरमाने से क्या होगा? रही सही इज्ज़त है वो भी चली जायेगी.

वैसे एक और बात अरविन्द केजरीवाल जहाँ मोदी और सरकार के खिलाफ ना जाने क्या क्या ट्वीट कर रहे है पर उन्होंने एक बार भी ये नहीं कहाँ की उनके सचिव राजेन्द्र कुमार की भी जांच होगी और वो इस जांच का स्वागत करते है.

आखिर चुनाव तो उन्होंने ऐसे ही वादों पर जीता था ना?

वैसे अरविन्द केजरीवाल लगातर ट्विटर और फेसबुक पर दे दना दन पोस्ट किये जा रहे है.

उन्हें देखकर तो उस लड़की की याद आती है जो सुबह उठने से लेकर रात को सोने तक 25 हैश टैग के साथ सेल्फी पोस्ट करती रहती है.

Don't Miss! random posts ..