ENG | HINDI

शरीर के अंगों पर तिल का मतलब जानकार आप रह जायेंगे हैरान!

शरीर के अंगों पर तिल का मतलब

शरीर के अंगों पर तिल का मतलब क्या होता है.

शरीर पर कई जगह पर काले, भूरे, लाल तिल देखने को मिलते हैं.

तिल शरीर के किसी भी  हिस्से पर  हो सकते है. लेकिन शरीर पर तिल क्यों होते है यह बात हर किसी को पता नहीं होती.

वैसे तो तिल शरीर में हार्मोन्स परिवर्तन के कारण भी उभरता है. लेकिन ज्योतिष शास्त्र के अनुसार  इंसान के शरीर का तिल उसकी तकदीर दर्शाता है.

इंसान के शरीर पर के तिल देखकर ज्योतिष शास्त्री इंसान का स्वाभाव और भविष्य के बारे में अनुमान लगा सकते है. यह सिर्फ एक अनुमान ही होता है, क्योकि किसी का भविष्य निश्चित रूप से बता पाना भगवान ब्रम्हा के अलावा किसी के लिए संभव नहीं है.

लेकिन ज्योतिष शास्त्र शरीर के इन तिलों के बारे में क्या कहता है, यह हम आपको बताएँगे शरीर के अंगों पर तिल का मतलब क्या होता है.

आइये जानते हैं शरीर के अंगों पर तिल का मतलब क्या होता है.

1. ललाट पर तिल

ललाट पर पाए जाने वाले तिल  भाग्यशाली होने का संकेत देता है. ललाट के दाएं ओर का तिल धनवान, सम्पत्ति संपन, और  यशवान बनता है. परन्तु ललाट के बाएं  ओर का तिल आत्मकेन्द्रित और स्वार्थी स्वाभाव बताता है.

2. मस्तक पर तिल

मस्तक का तिल इंसान को इज्जतदार और सम्मानीय बनाता है.

3. भौं पर तिल

आँखों के ऊपर भौं के दाएं तरफ का तिल बुद्धिमान और साहसी स्वाभाव का परिचय देता है, जबकि भौं के बाएं ओर का तिल मुर्ख बुद्धि को दर्शाता है.

4. नाक पर तिल

नाक पर तिल होना गुस्से वाले स्वभाव को दर्शाता है. नाक के दाएं ओर  तिल आलसी व्यवहार, कम मेहनती होने पर भी धन सम्पन्नता को इंगित करता है और बाएं  ओर  का तिल इंसान को बुरे परिणाम देता है.

5. ठुड्डी या दाढ़ी पर तिल

दाढ़ी का तिल उसके काम की काबिलियत और सराहना कराता है. अगर तिल दाएं ओर  है तब व्यक्ति को संपन्न बनाता है जबकि बाएं ओर का  तिल उस इंसान के प्रति घृणा कराता है.

6. होंठ पर तिल

होंठ के ऊपर भाग में तिल होने से अच्छे व्यवहार को बताता है. जब कि होंठ के निचले हिस्से का तिल प्रेम विवाह, घमंडी, अक्कडू स्वभाव के साथ खाने के शौक को बताता है. साथ ही उस व्यक्ति के अभिनय रूचि को भी दिखता है.

7. गाल पर तिल

गाल के बाएं  तरफ का  तिल अहंकारी और अभिमानी स्वभाव के साथ  परेशानियों से भरी जीवन को दिखाता है. जबकि गाल के  दाएं ओर का तिल सम्मानीय और प्रिय होने को सूचित करता है. साथ ही लंबी आयु और स्वास्थ्य जीवन का संकेत देता है.

8. कान पर तिल

कान पर तिल का होना इंसान को खुशनसीब, धनवान, और घुमक्कड़ स्वभाव को दर्शाता है.

9. गर्दन पर तिल

गर्दन पर पाये जाने वाला तिल इंसान की लम्बी आयु को बताता है.

10. हाथ पर तिल

हाथ के दाएं तरफ का तिल बुद्धिमान और कठोर स्वभाव का परिचय देता है, जबकि बाएं हाथ का  तिल धनवान बनने का स्वप्न लिए साधारण  जीवन जीने को दिखाता है.

11. पंजे पर तिल

हाथ के पंजे का तिल धनवान होने के साथ  इन्सान की दयालु स्वभाव को दिखाता है.

12. पेट पर तिल

पेट के दाएं ओर का तिल इंसान के भोजन प्रिय और भुक्खड़ स्वभाव का बनता है, जबकि बाएं तरफ का तिल डरपोक होने को दर्शाता है.

13. पैर के तलवे पर तिल

पैर के दाएं तलवे पर तिल सुखद यात्रा और भ्रमण करता है, जबकि बाएं तरफ तिल होने से संघर्षमय और रोजी रोटी की तलाश के लिए यात्रा करता है.

आपने जाना कि शरीर के अंगों पर तिल का मतलब क्या होता है. लेकिन ज्योतिष शास्त्र की यह जानकारी कितनी सही है यह तो कोई नहीं बता सकता.

शरीर के अंगों के तिल को देखकर आप अनुमान लगा सकते हैं कि आपका भविष्य क्या होगा और आपको जीवन में क्या प्राप्त हो सकता है.

Don't Miss! random posts ..