ENG | HINDI

ये अजीब काम करके साल का २५ लाख कमाता है ये आदमी

इस दुनिया में बड़े अजीब अजीब लोग हैं. किसी के पास जॉब नहीं हैं तो कोई साल में करोड़ों कमा लेता है. वो ज़माना और था जब कमाई के लिए लोग सरकारी नौकरी की तलाश में सालों बिता देते थे. आज लोग कोई भी काम करके पैसे कमा लेते हैं. आधुनिक युग में लोग इस तरह से पैसे कमा रहे हैं जिसके बारे में सोचकर आपको हैरानी होगी.

कुछ काम ऐसे होते हैं जिसे लोग कभी करना पसंद नहीं करते. ऐसे काम के लिए बहुत कम लोग ही हामी भरते हैं. ऐसे ही कामों में एक काम है लोगोंकी कब्र खोदना. जी हाँ, जिस तरह से हिन्दुओं में मरने के बाद लोगों को जलाने का काम डोम करते हैं, उसी तरह से मुस्लिमों और इसाई में मरने के बाद लोगों को दफनाया जाता है. बहुत कम लोग होते हैं जो इस तरह के काम में अपना जीवन बिताते हैं. जीवित लोगों के साथ रहना तो सब चाहते हैं लेकिन किसी मरे हुए इंसान के लिए कब्र खोदना और उसे उसमें दफनाना या फिर उसकी चिता जलाना बहुत मुश्किल वाला काम होता है. बड़े बड़े के पैर काँप जाते हैं.

लेकिन इस दुनिया में एक आदमी है जो कुछ लोगों की तरह इस तरह का काम करता है और वो इसमें साल का २५ लाख कमाता है. आपने कभी सोचा है कि कोई मुर्दों का भला करके भी लाखों रुपए कमा सकता है. ये कहानी है ब्रिटेन के एक ऐसे व्यक्ति की जो कब्र खोदता है और अपने फैमिली का पेट भरता है. इस इंसान का नाम मार्टिन है. ब्रिटेन में मृत लोगों के लिए कब्र खोदने वाले मार्टिन इन दिनों सुर्खियों में हैं. मार्टिन कब्र खोदकर सालाना 25 लाख रुपए कमा लेते हैं. मार्टिन को अब उनके इसी काम के लिए Death Oscar अवार्ड से नवाजा गया है.

मार्टिन इस लिए चर्चा में हैं क्योंकि वो लोगों की कब्र खोदकर इतना पैसा कमा लेते हैं जितना की बड़े बड़े बिज़नेस और नौकरी के बाद भी लोग नहीं कमा पाते. मार्टिन को इसके लिए पुरस्कार भी दिया गया. मार्टिन का काम बहुत मुश्किल भरा है लेकिन उसके लिए वो बहुत पैसा कम रहे हैं. मार्टिन को हाल ही में ब्रिटेन का बेस्ट ग्रेवडिगर (कब्र खोदने वाला) घोषित किया गया है. ब्रिटेन में कब्रिस्तानों को मॉनिटर करने वाली एक बॉडी ने ये फैसला लिया है. इस बॉडी के अनुसार मार्टिन को उनके एंवायरमेंट फ्रेंडली काम करने के तरीके की वजह से ये अवॉर्ड दिया गया.

आमतौर पर गहरी कब्र खोदने के लिए मशीन आती है, लेकिन मशीन के उपयोग से आसपास की ज़मीन को बहुत नुक्सान पहुँचता है और बगल में बनी कब्र भी हिल जाती है. लेकिन हाथ से इतनी गहरी कब्र खोदना और भी मुश्किल का काम होता है, एल्किन मार्टिन खुद अपने हाथों से ये काम करते हैं. बता दें कि मार्टिन अपने ही हाथों से 6 से 7 फुट की कब्र मशीन की तरह खोदते हैं. जबकि भारी-भरकम मशीनों से खुदाई करने पर असापास की जगहों को काफी नुकसान होता है. एक ऑफिशियल के मुताबिक इंग्लैंड में सामाजिक कार्य करने वाले लोगों को ऐसे ही सम्मानित किया जाता है, जिसमें कब्र खोदना भी शामिल है.

किसी ने सच कहा है कि कमाने का ज़रिया बहुत है बस, ज़रुरत है तो शुरुआत करने की.

Don't Miss! random posts ..