ENG | HINDI

ममता बनर्जी की सरकार कर रही है देश का बंटवारा, पाकिस्तान को दिया ये हिस्सा

ममता बनर्जी की सरकार

ममता बनर्जी की सरकार – पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री के कारनामों को देखकर समझ नही आ रहा कि वो भारत की निवासी है या फिर पाकिस्तान की।

वो कभी दुर्गा पूजा बैन करवा देती है तो कभी दिवाली।

ये सब तो फिर हम लोगो ने सह लिया। लेकिन ममता बनर्जी की सरकार के नए कारनामे को कोई भी सह पाएगा । क्योंकि ममता बनर्जी की सरकार  टीएमसी  ने किया ही कुछ ऐसा है । जिसे जाने के बाद कोई भी भारतीय आग बबूला हो जाएगा ।

जिस जमीनी विवाद को लेकर भारत पाकिस्तान और भारत चीन के बीच विवाद चल रहा है । वो ममता बनर्जी की सरकार ने चीन और पाकिस्तान के नाम कर दिया है। बंगाल में हाल ही में  हुए सेकंडरी स्कूल के एग्जाम में बच्चों को जो भारता का नक्शा बांटा गया उसमे पीओके पाकिस्तान में और अरुणाचल प्रदेश चीन में दिखाया गया है। इतने बङे राज्य में नक्शे बनाने में इतनी बङी गलती अनजाने में तो हो नही सकती ।

ममता बनर्जी की सरकार

सेकंडरी स्कूल के बच्चों के एग्जाम में बांटे गए गलत नक्शों का खुलासा भाजपा नेता राजू बनर्जी ने किया जो बंगाल में भाजपा के महामंत्री है । राजू बनर्जी ने कहा कि ” आप लोग साफ देख सकते है एग्जाम में बांटे  जा रहे है इन मैप में पीओके, अक्साई चिन और अरुणाचल प्रदेश को भारत की सीमा से बाहर चीन और पाकिस्तान में दिखाया गया है । “भाजपा ने भले ही अपने फायदे के लिए इस बात का खुलासा किया हो । लेकिन इसे ममता बनर्जी की पार्टी की करतूते सामने आने लगी है ।राजू बनर्जी के अनुसार “इन मैप को बनवाने में टीएमसी से मिले अध्यापकों के गुटों की साजिश है । ”  ये गुट देश का बंटवारा कर रहे है । हालांकि ये अभी साबित नही हो पाया है कि ये काम ममता बनर्जी की सरकार का है लेकिन उनकी चुप्पी इसी ओर इशारा कर रही है । हालांकि ये गलती से हुआ हो या जानबूझकर लेकिन जिम्मेदारी तो ममता बनर्जी को ही उठनी पङेगी ।

ममता बनर्जी की सरकार

क्योंकि उस छोटे से हिस्से की रक्षा के लिए भी हमारे कई जवानों को शहीद होना पङता है ।

जमीन चाहे विवादी हो लेकिन है तो भारत का हिस्सा। और कश्मीर में पीओके भले ही पाकिस्तान का कब्जे वाली जगह है लेकिन वो भारतीय जम्मू कश्मीर का ही हिस्सा है और अब तक पाकिस्तान ने भी पीओके के को अपनी तरफ दिखाने की हिम्मत नही की । तो फिर टीएमसी अपना हिस्सा किसी को कैसे किसी ओर के हिस्से में दिखा सकती है ।

और वही दूसरी तरफ अरुणाचल प्रदेश भारत का राज्य है उसमे कोई विवाद है ही नही  । हालांकि चीन शुरु से अरुणाचल प्रदेश को तिब्बत के करीबी होने के कारण अपना बताता रहा है लेकिन चीन इस बात को कभी साबित नही कर पाया । जिस वजह से ये कानूनी रुप से भारत का राज्य है । और अक्साई चिन भी भारत की सीमा के अंदर आता है ।

इस विवादित मैप के बाद राज्य की राजनीति भी गरमा गई है क्योंकि भले ही बात छोटी हो या बङी । लेकिन इसे निकला मुद्दा बहुत बङा है ।इसी के चलते भाजपा ने टीएमसी को आतंकियों का सपोर्टर तक कह दिया है और इस मामले खे खिलाफ एजआरडी मिनिस्ट्री को लेटर लिखकर शिकायत करने की बात भी कही ।

ममता बनर्जी गिर रही गाज का कारण वो खुद है अब देखना ये है कि गलत मैप की आग कहाँ तक फैलती है ।

Don't Miss! random posts ..