ENG | HINDI

मलेशिया की मस्जिद के सामने लड़कियों ने डांस किया तो पर्यटकों पर लग गया बैन

मस्जिद

मस्जिद में किसी भी लड़की का घुसना भी मना है।

ऐसे में जब कुछ लड़कियां जब मस्जिद में डांस करेंगी तो खबर तो फैलेगी ही। कुछ ऐसा ही हुआ है मलेशिया के मस्जिद में जिसके कारण वहां पर्यटकों पर ही बैन लगा दिया गया है। इसलिए शायद लड़कियों को कोसा जाता है। दो लड़कियों के डांस का नतीजा पूरे पर्यटकों को चुकाना पड़ेगा। सबसे बड़ी बात है कि इससे मलेशिया के पर्टक राजस्व पर भी असर पड़ेगा। लेकिन फिर भी मलेशिया की सरकार ने ये फैसला लिया।

जानिए क्या है पूरा मामला?

क्या है मामला?

मस्जिद

मलेशिया की एक मस्जिद में दो लड़कियों के डांस करने का वीडियो वायरल हो रहा है। ये लड़कियां तंग कपड़ों में मस्जिद की दीवार पर चढ़कर डांस कर रही हैं। यह वीडियो किनाबालु शहर स्थित मुख्य मस्जिद के बाहर का है दो वहां का एक प्रमुख पर्यटक स्थल है।
कोटा किनाबालु शहर स्थित मुख्य मस्जिद के बाहर एक दीवार पर तंग कपड़ों में नृत्य करते हुए दो महिलाओं का वीडियो बना लिया गया। वे पूर्वी एशियाई प्रतीत होती हैं और विदेशी समझी जा रही हैं। यह स्थान पर्यटकों के बीच काफी लोकप्रिय है।

स्थानीय लोग कर रहे हैं गुस्सा

इस वीडियो के बाहर आने के बाद वहां के स्थानीय लोग काफी गुस्सा कर रहे हैं। इस वीडियो के दौरान ही लोगों का गुस्सा नजर आ रहा है। वीडियो में इस घटना के एक चश्मदीद को यह कहते सुना जा सकता है कि वे लोग दीवार से गिर क्यों नहीं गए? इसी तरह कई अन्य लोग भी अल्लाह को याद करते हुए इन दो डांस करती हुई लड़कियों की आलोचना कर रहे हैँ।

मस्जिद

मस्जिद प्रमुख जमाल साकरन ने दिन के अंत में इस तरह की कृत्य की आलोचना की। उन्होंने कहा कि विदेशी पर्यटकों का इस तरह का व्यवहार अस्वीकार्य है और साबाह राज्य स्थित मस्जिद में पर्यटकों की यात्रा पर अस्थायी रोक का ऐलान किया। उन्होंने कहा कि इस कदम का उद्देश्य इस्लाम की पवित्रता को बचाए रखना है।

नहीं मालूम चली है लड़कियों की राष्ट्रीयता

इस वीडियो में डास करती हुई लड़कियों की राष्ट्रीयता के बारे में कुछ भी स्पष्ट नहीं है। क्योंकि इस वीडियो में उन दोनों का चेहरा साफ नजर नहीं आ रहा है इस कारण से उन लड़कियों के बारे में किसी तरह की जानकारी नहीं मिली है।

नहीं लिया जाएगा कोई एक्शन

फिलहाल सरकार ने इन लड़कियों के खिलाफ किसी तरह का एक्शन लेने से मना कर दिया है। प्रांतीय पर्यटन मंत्री क्रिस्टिना लीव ने ‘द स्टार अखबार से कहा कि इस जोड़ी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई नहीं की जाएगी क्योंकि वे अपनी हरकतों की गंभीरता से संभवत: वाकिफ नहीं थीं।’
लेकिन इस घटना की कड़ी आलोचना कहते हुए एक अधिकारी ने कहा है कि ‘वे उन लड़कियों का मता लगाना चाहते हैं और उन्हें इस कृत्य की गंभीरता के बारे में अहसास कराना चाहते हैं। क्योंकि उन्होंने जो किया है वह काफी असम्मानजनक है।’

गौरतलब है कि मलेशिया एक मुस्लिम बहुल देश है और वहां आने वाले पर्यटक आमतौर पर मस्जिदों की यात्रा करते हैं। देश में इस्लाम धर्म माना जाता है लेकिन उदार रूप से। इस उदारता की शर्त यह है कि लोग कपड़े शालीन पहनें जिससे ना उन्हें और ना आसपास के लोगों को दिक्कत हो।

वीडियो में दिखने वाली मस्जिद मलेशिया के साबाह राज्य की राजधानी कोटा किनाबालू में स्थित है और यहां हर साल लाखों की संख्या में पर्यटक आते हैं। इससे पर्यटकों को काफी बड़ा नुकसान हुआ है। अब देखना यह है कि यह बैन कब तक रहता है?

Article Categories:
विशेष

Don't Miss! random posts ..