ENG | HINDI

जब देर तक विकेट न गिरे तो स्टंप्स के पीछे खड़े धोनी करते हैं ये काम

स्टंप के पीछे महेन्द्र सिंह धोनी

स्टंप के पीछे महेन्द्र सिंह धोनी – महेन्द्र सिंह धोनी, एक ऐसा नाम जिसके साथ कईं उपनाम और कईं उपलब्धियां जुड़ी हैं।

जी हां, महेन्द्र सिंह एक धोनी एक अच्छे बल्लेबाज, विकेटकीपर तो है ही, साथ ही वो कैप्टन कूल भी रह चुके हैं। महेन्द्र सिंह धोनी अपनी खास कप्तानी के स्टाइल के लिए तो जाने ही जाते हैं, इसके अलावा क्रीज़ पर उनका अंदाज़ भी ना केवल खास होता है बल्कि लोगों के लिए मिसाल भी होता है, धोनी यूं तो अब कप्तान नहीं है लेकिन फिर भी जब भी क्रीज पर खड़े होते हैं तो ना केवल बाकी खिलाड़ियों को चियर अप करते हैं, कैप्टन कोहली को भी कप्तानी के टिप्स देकर गाइड करते हैं बल्कि अपने मज़ाकिया अंदाज़ से सभी का मूड भी अच्छा रखते हैं।

स्टंप के पीछे महेन्द्र सिंह धोनी

धोनी का यही खास अंदाज़ उन्हे इतना लोकप्रिय बनाता है और लोगों के लिए प्रेरणादायक सिध्द होता है। धोनी की समझदारी और सूझ-बूझ के बारे में जितना कहा जाए वो कम ही है। अभी तत्काल में इंडिया-साउथ अफ्रीका के बीच वनडे सीरीज चल रही है। यूं तो इस सीरीज़ में बल्ले से महेंद्र सिंह धोनी ज्यादा कुछ नहीं कर पाए हैं लेकिन इस बात को वो लगातार साबित कर रहे हैं कि विकेट कीपिंग में वो बेस्ट हैं।

जी हां, धोनी का विकेट कीपिंग का अंदाज़ बिल्कुल ही अलग है और ये कहना गलत नही होगा कि विकेट कीपिंग में उनका कोई सानी नहीं है। टीम के फील्डिंग कोच एस श्रीधर ने तो यहां तक कहा था कि धोनी के विकेट कीपिंग स्टाइल पर रिसर्च होनी चाहिए। धोनी के कीपिंग स्टाइल को माही स्टाइल का नाम दिया जा चुका है। बता दें कि ना केवल धोनी बड़ी ही चुस्ती औऱ स्फूर्ति के साथ स्टंप के पीछे गिल्लियां बिखेर देते हैं बल्कि गेंदबाजो को सही जगह और लाइन पर गेंद फेंकने के लिए गाइड करने में उनका अहम रोल है। पांचवें वनडे में स्टंप्स के पीछे खड़े धोनी की आवाज माइक में रिकार्ड हुई है जिसमें वो  रोहित शर्मा, विराट कोहली और चाहल को जो एडवाइड देते हुए सुनाई दे रहे हैं वो उन्हे बेस्ट विकेट कीपर साबित करती है।

स्टंप के पीछे महेन्द्र सिंह धोनी

धोनी की ये रिकॉर्डिंग इस बात सो साफ करती है कि क्रिकेट के माइंड गेम के वो मास्टरमाइंड है और कैप्टन ना होते हुए भी वो क्रीज पर टीम का मोटिवेशन और जोश कम नहीं होने देते हैं। लंबे समय तक विकेट ना गिरने पर धोनी किस तरह टीम मेंबर्स के बीच हौसला बनाए रखते हैं वो काबिलेतारीफ है।

स्टंप के पीछे महेन्द्र सिंह धोनी 

स्टंप के पीछे महेन्द्र सिंह धोनी – ज़रा देखिए कि माइक में धोनी की क्या बातें रिकॉर्ड हुई है।

1- बहुत जोर का आएगा तेरे पास, पीछे ही. ज्यादा आगे मत आना. (धोनी-रोहित से)

2- इधर तैयार रहना बहुत जोर का कैच आएगा, बाद में मत कहना. (धोनी-कोहली से)

3- ठीक है सामने नहीं. अंदर मारता है. (धोनी-चाहल से)

4- चलो-चलो लड़को, एक विकेट की बात है. (चीयर अप करते हुए)

ये है स्टंप के पीछे महेन्द्र सिंह धोनी – धोनी की इन बातों से साफ है कि उनके जैसा कूल बल्लेबाज, विकेटकीपर शायद ही कोई हो सकता है। शायद इसी वजह से उनसे बेहतर विकेटकीपिंग कोई नहीं कर पाता है और इसीलिए धोनी को बेहतरीन खिलाड़ी भी माना जाता है।

Don't Miss! random posts ..