रिलेशनशिप्स

इस तरह से जान सकते है कि आपकी लव मैरिज होगी या अरैंज मैरिज।

इस तरह से जान सकते है कि आपकी लव मैरिज होगी या अरैंज मैरिज।

अक्सर लोगो के मन में शादी को लेकर कई तरह के सपने होते है, जैसे शादी किससे होगी और होने वाला हमसफर कैसा होगा।

लेकिन आपको बता दें कि लोगो के मन में ये सवाल भी होता है कि उसकी शादी अरेंज होगी या लव इसको लेकर भी असंमजस में रहते है।

लेकिन एस्ट्रोलॉजी की बात माने तो न्युमेरोलोजी या अंक ज्योतिष के द्वारा हम जान सकते है कि हमारी शादी कैसे होने वाली है, लव मैरिज होगी या अरैंज मैरिज।

अंक ज्योतिष में आपके जन्म की तारीख के अंको को जोड़कर मूलांक निकालते है, जैसे किसी का जन्म किसी भी महीने की 28 तारीख को हुआ है तो 2+8=10 और 1+0=1, इसका मतलब 28 तारीख को जन्म लेने वाले लोगो का मूलांक 1 होगा।

तो चलिए आप भी जान लीजिये कि अंक ज्योतिष के अनुसार आपकी लव मैरिज होगी या अरैंज मैरिज –

लव मैरिज होगी या अरैंज मैरिज –

मूलांक – 1

मूलांक 1, को सूर्य का नंबर माना जाता है। न्युमेरोलोजी के अनुसार 1 मूलांक वाले लोग काफी शर्मीले स्वाभाव के होते है, ऐसे में ये लोग कभी प्यार के लिए पहल नहीं करते है। हालाँकि ये लोग प्यार जरुर करते है, लेकिन इनके शर्मीले स्वभाव के कारण इनकी लव मेरिज होना असंभव ही होती है। ये लोग अरेंज मेरिज करके ही घर बसाते है। 

मूलांक – 2

मूलांक 2 को ज्योतिष विज्ञान में चन्द्रमा का अंक माना गया है। अंक 2 वाले लोगो को प्यार काफी धीरे-धीरे होता है। लेकिन प्यार के मामले में ये लोग बहुत ही इमोशनल होते है। और जब इनको किसी से प्यार हो जाता है तो ये लोग लव मैरिज करके ही मानते है।

मूलांक – 3

मूलांक 3 गुरु का अंक माना जाता है, ऐसा कहा जाता है कि मूलांक 3 वाले लोग अक्सर लव मेरिज में सफल रहते है। ये अपने प्यार को शादी तक ले जाने में किसी की मदद चाहते है बस। इनका वैवाहिक जीवन भी सफल ही रहता है।

मूलांक – 4

मूलांक 4 राहू का माना जाता है, और 4 अंक वाले लोग एक से अधिक लोगो से प्रेम करते है। इस वजह से ये लोग कभी भी प्रेम विवाह के प्रति गंभीर नहीं होते है। ऐसे में मूलांक 4 वालो की लव मैरिज करने की कम ही संभावना होती है।

मूलांक – 5

मूलांक 5 बुध का माना जाता है, मूलांक 5 वाले लोग पारम्परिक तरीके से रिश्ते निभाने में यकीन रखते है। इन लोगो की अधिक्तर शादियाँ परिवार की सहमति से ही होती है। हालाँकि इनकी कुंडली में सफल वैवाहिक जीवन और प्रेम विवाह के प्रवल योग होते है।

मूलांक – 6

मुलांक 6 को शुक्र का माना जाता है, मूलांक 6 वाले लोग प्रेम विवाह करने के लिए ही बने होते है। ये लोग एक से अधिक लोगो के प्रेम में रहते है इसलिए कभी-कभी सही इंसान को खो बैठते है। ऐसा कहा जाता है कि मूलांक 6 वाले 80 प्रतिशत से ज्यादा लोग प्रेम विवाह ही करते है।

मूलांक – 7

मूलांक 7 केतु का माना जाता है, मूलांक 7 वाले लोग संकुचित स्वभाव के होते है। हालाँकि ये लोग प्रेम विवाह करना तो चाहते है लेकिन प्रेम में भी इनका लाभ-हानि के बारे में गणित लगाना इनको नुकसान पहुंचा देता है।

मूलांक – 8

मूलांक 8 शनि का माना जाता है, ऐसे लोग बहुत ही कम प्यार में पड़ते है। हालाँकि जब एक बार इनको प्यार हो जाता है तो ये लोग मरते दम तक उसका साथ निभाते है।

मूलांक – 9

मूलांक 9 मंगल का माना जाता है, ऐसे लोग किसी भी तरह का विवाद अपनी जिंदगी में नहीं चाहते है इस वजह से इनका भी प्रेम विवाह मुश्किल ही होता है। प्रेम में विवाद तो होता ही है इसलिए ये लोग हमेशा इस चीज़ से दूर ही रहते है हालाँकि इनकी इच्छा बहुत होती है किसी के प्रेम में पड़ने की लेकिन डर की वजह से ये लोग पहल नही करते है।

इस तरह से आप जान सकते है आपकी लव मैरिज होगी या अरैंज मैरिज – अगर शादी को लेकर आपके मन में भी कई उलझन है तो आप भी न्यमेरोलॉजी के से जान सकते है कि लव मैरिज होगी या अरैंज मैरिज।

 
badge