ENG | HINDI

लॉर्ड्स के मैदान पर रिकॉर्ड बना चुके हैं ये खिलाड़ी

लॉर्डस

क्रिकेट के मशहूर ग्राउंड लॉर्डस में आज से इंग्लैंड और भारत के बीच दूसरा टेस्ट मैच शुरू हो रहा है.

इस मैदान पर जीत भारत के लिए बहुत मुश्किल है, क्योंकि अब तक खेले गए 17 टेस्ट में से भारत ने सिर्फ 2 में जीत दर्ज की है जबकि इंग्लैंड 11 मैच जीत चुका है बाकी मैच ड्रॉ रहे. टीम इंडिया सीरिज का पहला टेस्ट मैच भी हार चुकी है ऐसे मे टीम पर अतिरिक्त दबाव रहेगा. लॉर्डस के मैदान को क्रिकेट का मक्का कहा जाता है और यहां पर कई खिलाड़ियों ने रेकॉर्ड्स बनाए.

कुछ ऐसे रेकॉर्ड्स भी हैं जिन्हें आज तक कोई तोड़ नहीं पाया है. चलिए आपको बताते हैं ऐसे ही कुछ ऐतिहासिक रिकॉर्ड.

लॉर्डस का मैदान

१ – वीनू मांकड

भारत के खिलाड़ी वीनू मांकड एकमात्र ऑलराउंडर हैं जिन्होंने इस मैदान पर शतक और अर्द्धशतक लगाने के साथ एक मैच में 5 विकेट भी लिए. ऐसा उन्होंने 1952 में इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट मैच में किया.

२ – ग्राहम गूच

ग्राहम गूच पहले बल्लेबाज बने जिन्होंने टेस्ट में एक मैदान पर 2000 रन पूरे किए, उन्होंने लॉर्ड्स में 21 मैचों में 6 शतकों और 5 अर्द्धशतकों लगाकर कुल 2000 रन बनाए थे.

३ – 3 बार ही 250+ स्कोर

लॉर्ड्स के मैदान पर सिर्फ 3 बार ही किसी बल्लेबाज ने टेस्ट में 250 से ज़्यादा रन बनाए. इंग्लैंड के ग्राहम गूच (485 गेंदों पर 333 रन, vs भारत, 1990), साउथ अफ्रीका के ग्रीम स्मिथ (370 गेंदों में 259 रन, vs इंग्लैंड, 2003) और ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज डॉन ब्रैडमैन (376 गेंदों में 254 रन, vs इंग्लैंड, 1930).

४ – बॉब विलिस

इंग्लैंड के कप्तान बॉब विलिस ने 1982 में भारत के खिलाफ 101 रन देकर 6 विकेट हासिल किए, जो टेस्ट की किसी एक पारी में किसी भी टीम के कैप्टन का लॉर्ड्स के मैदान पर अब तक का सबसे अच्छा प्रदर्शन है.

५ – केवल 2 बार ही 8 विकेट लिए

केवल 2 गेंदबाजों ने ही इस मैदान पर एक पारी में 2 बार 8 विकेट लेने की उपलब्धि अपने नाम की है, इंग्लैंड के इयान बोथ (8/34 vs पाकिस्तान, 1978 और 8/103 vs वेस्ट इंडीज. 1984) और ऑस्ट्रेलिया के बॉब मैसी (8/84 vs इंग्लैंड और 8/53 vs इंग्लैंड, 1972)

६ – मैट प्रायर

इंग्लैंड के खिलाड़ी मैट प्रायर एकमात्र विकेटकीपर हैं जिन्होंने लॉर्ड्स में 7 या उससे ज़्यादा बैट्समैन को पविलियन भेजा और साथ ही शतक भी लगाया है. उन्होंने ऐसा दो बार किया है, साउथ अफ्रीका के खिलाफ 2012 में 100 (27+3) और 8 विकेट (6 कैच, 2 स्टंप्स) तथा श्री लंका के खिलाफ 2014 में 102 (86+16) और 7 विकेट (सभी कैच आउट)

लॉर्ड्स के मैदान पर कई रिकॉर्ड बन चुके हैं, अब देखना ये है कि कोहली की कप्तानी में टीम इंडिया इस मशहूर ग्राउंड पर कौन सा नया रिकॉर्ड बनाती है.

Don't Miss! random posts ..