ENG | HINDI

आगरा पुलिस ने पुजारी को दान में दी ऐसी दक्षिणा कि

लोहामंडी थाने के मंदिर के पुजारी

लोहामंडी थाने के मंदिर के पुजारी – आगरा पुलिस ने एक पुजारी को दान में ऐसी दक्षिणा दी है कि पुजारी को अब लेते नहीं बन रहा है. लेकिन मजबूरी है क्या करे.

दक्षिणा को लेना अब उनकी मजबूरी है. क्योंकि दक्षिणा पुलिस की ओर से आई, लिहाजा मना भी नहीं किया जा सकता. क्योंकि मना करने का सीधा सीधा मतलब होगा पुलिस से पंगा लेना.

चलिए आपको पूरा मामला बताते हैं.

दरअसल, जब से उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ मुख्यमंत्री बने हैं सूबे की पुलिस पूरी तरह से हरकत में दिखाई देने लगी है.

अब कोई बड़ी वारदात हो या सड़क नियम तोड़ने की छोटी-मोटी घटना, पुलिस ऐक्शन लेने में देर नहीं लगाती दिख रही. पुलिस के इसी एक्शन का निशाना बने हैं मंदिर के एक पुजारी.

इस बार मामला दरअसल अनोखी नंबर प्लेट का था, जिसपर मंदिर के पुजारी ने अपना व्यवसाय और पता लिखवाया हुआ था. पुजारी जी ने ये लिखवाया तो इसलिए था कि इससे पढ़कर न केवल आटों रिक्शा वाले उनसे साइड मांगने के लिए हार्न देंगे बल्कि पुलिस के सिपाही भी उनको हाथ देने से पहले सोचेंगे.

आगरा की लोहामंडी थाने के मंदिर के पुजारी ने अपनी बाइक की नंबर प्लेट पर नीली और लाल पट्टी के ऊपर लिखा हुआ था- लोहामंडी थाने के मंदिर के पुजारी.

बस इतना ही काफी था उनके लिए मुसीबत खड़ी करने को.

इस नंबर प्लेट की तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल होने लगीं, जिसके बाद एएसपी ने ट्विटर के जरिए आगरा के पुलिस अधिकारियों को पुजारी का चालान काटने का निर्देश दिया.

एएसपी ने आगरा पुलिस को टैग करते हुए ट्वीट किया- ऐसी वीआईपी बाइक पहले नहीं देखी होगी. कृपया पुजारी जी को दक्षिणा में चालान की पर्ची भेंट करें.

जो नंबर प्लेट लोहामंडी थाने के मंदिर के पुजारी ने दूसरों पर रौब गांठने के लिए लगाई थी वो उनके लिए मुसीबत का सबब बन गई और घर पर चालान की पर्ची पहुंच गई.

अब लोहामंडी थाने के मंदिर के पुजारी को समझ में नहीं आ रहा है कि वे कहें तो किससे कहें. वे जिस थाने में रोज आरती उतारते हैं उसने भी हाथ खड़े कर दिए हैं.

Don't Miss! random posts ..