ENG | HINDI

चीन के सामान का बहिष्कार – सौगंध राम की खाते हैं चीन के सामान में आग लगायेंगे !

चीन के सामान का बहिष्कार

चीन के सामान का बहिष्कार – आपने एक कहावत तो सुनी ही होगी कि दुश्मन का दोस्त, कभी भी हमारा दोस्त नहीं हो सकता है.

चाणक्य भी यही कहते हैं कि यदि कोई तुम्हारा दोस्त, तुम्हारे दुश्मन के पास जाकर बैठता है तो उस दोस्त पर भी विश्वास मत करना. किन्तु आज हम चीन पर इस तरह से निर्भर हो रहे हैं कि जैसे वह भारत का सच्चा साथी है.

चीन ने भारत को आँखें दिखानी शुरू कर दी हैं. चीन ने पाकिस्तान का हर मोड़ पर साथ दिया है. चीन ने पाक के आतंकवादियों को आतंकवादी नहीं माना है.

तो इस तरह से चीन पाकिस्तान के साथ दोस्ती निभा रहा रहा.

किन्तु हैरानी इस बात की है कि चीन पाक से दोस्ती निभा रहा है और भारत में करोड़ों का व्यापार कर रहा है.

तो दुश्मन के दोस्त को आइये औकात दिखाते हैं

आपको पहले कुछ आंकड़े देखने चाहिए. आपको बता दें कि साल 2006 के दौरान चीन का दीवाली के समय भारत में बाजार कुछ 11 हजार करोड़ रुपैय था, जो साल 2012 में 33 हजार करोड़ रुपैय हो गया था. अब साल 2016 में यह अनुमान लगायें तो यह आंकड़ा वाकई काफी ऊपर है. चीन इस साल कुछ 52 अरब डॉलर से ऊपर का व्यापार भारत में करने वाला है. इस तरह से यह साबित हो रहा है कि चीन की अर्थव्यवस्था को भारत गति दे रहा है. हमारा धन पहले चीन तक जाता है और उसके बाद चीन से यही धन पाकिस्तान जा रहा है.

तो दुश्मन का दोस्त कहीं न कहीं, हमारे दुश्मन को पाल रहा है. चीन ने ब्रह्पुत्र नदी के पानी को बाधित किया है और भारत आने वाले पानी को नुकसान पहुचाया है. तो अब वक्त आ गया है कि चीन को उसकी औकात दिखाई जाये. चीन के किसी भी सामान को खरीदने का बहिष्कार किया जाना जरुरी हो गया है.

समस्या यह है कि दुकानदारों ने सामान तो खरीद लिया है –

अब जब लोग देश भर में चीन के साथ #NOTRADE #चीन के सामान का बहिष्कार की बात बोल रहे हैं तो वहीँ कुछ लोग जो वामपंथी विचारों से लाल हैं वह लोग बोल रहे हैं कि अब अगर भारत के लोगो ने चीन का सामान नहीं खरीदा तो इससे भारत देश को ही नुक्सान होगा. क्योकि दुकानदारों ने चीन से सामान तो खरीद लिया है. चीन को पैसे भी जा चुके हैं.

तो आज हम बोलना चाहेंगे कि अब भी किसी भी कीमत पर आपको चीन का सामान नहीं खरीदना चाहिए. जिन दुकानदारों ने चीन का सामान बेचने की आदत डाल ली है उनको घाटा उठाना ही चाहिए, तभी अगली बार चीन से सामान खरीदते वक़्त ऐसे दुकानदार 100 बार जरुर सोचेंगे.

हमें चीन के सामान का बहिष्कार करना चाहिए.

तो राम भक्त दिखाने वाले हैं चीन को औकात –

यदि आप भगवान राम के भक्त हैं और राम के देश हिन्दुस्तान को बचाना चाहते हैं तो आपको चीन के सामान का बहिष्कार करना ही होगा. दिवाली भगवान राम का त्यौहार है और आप राम भक्त हैं. राम जी ने हमेशा अपने देश से प्यार किया और उसी देश की लाज बचाने के लिए राम के भक्तों को सामने आना ही होगा.

चीन हमारे पैसों से पाकिस्तान को पाल रहा है और पाकिस्तान आज भारत को आँखें दिखा रहा है. अगर राम भक्त चाहें तो चीन तो इस त्यौहार के मौके पर चीन के सामान का बहिष्कार करके उसकी औकात याद दिला सकते हैं. हम आप सभी राम भक्तों से अपील करते हैं कि इस सन्देश को ज्यादा से ज्यादा लोगों तक शेयर किया जाये और अपने दोस्तों के साथ यह सौगंध लें कि चीन के सामान का बहिष्कार करेंगे –

सौगंध राम की खाते हैं
चीन के सामान में आग लगायेंगे…

चीन के सामान का बहिष्कार करेंगे…

Don't Miss! random posts ..