ENG | HINDI

यहाँ इन्सान होता है पिंजरे में बंद और जानवर घूमते है खुलेआम।

चिड़ियाघर

आप अपनी लाईफ में कई बार चिड़ियाघर या वाइल्ड लाइफ सेंक्चुरी घूमने गए होगे, जहां आपने पिंजरों में बंद जानवरों को देखा होगा।

लेकिन क्या आप जानते है कि इस दुनिया में एक ऐसा भी चिड़ियाघर है जहाँ इंसानों को तो पिंजरे में बंद कर देते है और जानवर खुलेआम घूमते है।

सुनने में ये बड़ा अजीब है लेकिन ये सच है।

इस चिड़ियाघर में जानवर की जगह टूरिस्ट को ही पिंजरे में कैद कर दिया जाता है।

जी हां, चीन में एक ऐसा चिड़ियाघर है, जिसका नाम है लेहे लेदु वाइल्डलाइफ जू है। यहां पर जानवर खुलेआम घूमते है और यहां घूमने वाले लोग पिंजरे में बंद होकर यहां का नजारा लेते है।

चिड़ियाघर

जानिए इस चिड़ियाघर के बारे में-

ये अजीब चिड़ियाघर चीन के चौंगक्विंग शहर में स्थित है। चीन का यह चिड़ियाघर 2015 में खोला गया। इस चिड़ियाघर का नाम लेहे लेदु वाइल्डलाइफ जू है। जहाँ इंसानों को जानवरों के करीब जाने का अनोखा मौका मिलता है। यहां टूरिस्ट जानवरों को अपने हाथों से खाना भी खिला सकते हैं। इंसानों से भरे पिंजरों को जानवरों के आसपास ले जाया जाता है, मतलब शिकारी के शिकार को पिंजरे में रखकर ललचाया जाता है। खाने की लालच में जानवर पिंजरे के पास आते हैं। कभी-कभी पिंजरे के ऊपर भी चढ़ जाते हैं।

इस चिड़ियाघर को बनाने का कारण-

इस चिड़ियाघर के संरक्षकों का कहना है की हम अपने दर्शको को सबसे अलग और रोमांचकारी अनुभव फील करवाते है। चिड़ियाघर के प्रवक्ता चान लियांग ने कहा, ‘जब कोई जानवर आपका पीछा करता है या जब वह हमला करता है, हम उस वक्त की फिलींग को अपने दर्शकों को महसूस करवाना चाहते हैं।’ इस खास चिड़ियाघर को देखने के लिए कई देशों के टूरिस्ट भरी मात्रा में आते है।

विसिटर्स को दी जाती है सख्त हिदायत-

यहाँ पर सुरक्षा और सावधानी पर खासा ध्यान दिया जाता है. ‘विजिटर्स को पहले से ही संभावित खतरों के बारे में सावधान कर दिया जाता है। उनकी अंगुलियां किसी का लंच न बन जाए, इसलिए उन्हें अपनी अंगुलियां हमेशा पिंजरे के अंदर रखने की हिदायत दी जाती है।

यहाँ पर है कई खतनाक जानवर-

इस चिड़ियाघर में आप लगभग सभी खतरनाक जानवरों को देख सकते है। यहां आप शेर, बंगाल टाइगर, सफेद बाघ, भालू आदि जानवरों को अपने हाथों से चिकन आदि खिला सकते हैं। दुनिया में ऐसे कुछ ही चिड़ियाघर हैं जहां ऐसे पिंजरे हैं।

होते है सुरक्षा के पुख्ता इन्तेजाम-

वैसे इस चिड़ियाघर में सुरक्षा को लेकर विजिटर्स को सख्त निर्देश तो दिए ही जाते है। लेकिन इसके अलावा भी यहाँ सुरक्षा को लेकर पुख्ता इंतेजाम किये गये है। केमरों से पिंजरों और जानवरों पर 24 घंटे निगाह रखी जाती है और आपातकाल की स्थिति में 5-10 मिनट में मदद पहुँचाई जा सकती है ।

चिड़ियाघर

क्या आप भी इस चिड़ियाघर की सैर करना पसंद करेंगे।

सोचो कैसा होगा जब आप खूंखार जानवरों के बीच में फँसे हो और वो आपको खाने के लिए आगे बड़ रहे हो। वैसे यहाँ पर विजिट करने का फैसला करना ही आपके लिए डेयर-डेविल फैसला होगा।

दुनिया में वैसे बहुत से चिड़ियाघर है लेकिन चीन के इस अनोखे चिड़ियाघर जैसा शायद ही कोई होगा।

Don't Miss! random posts ..