ENG | HINDI

कलयुग में भगवान कृष्ण जायेंगे अयोध्या होली खेलने !

अयोध्या में होली

अयोध्या में होली – होली खेले रघुबीर अवध में…

होली के आते ही पूरे देश में ये गाना ज़रूर बजने लगता है. असल में इसके जैसे कोई और गाना ही नहीं बना जो जुबां पर चढ़ सके. इस गाने का मतलब है कि अवध में यानी अयोध्या में भगवान राम होली खेल रहे हैं. ये बेहद ही पवित्र बात है.

भगवान् के सतह होली खेलने का अवसर जिसे भी मिला होगा उसका जीवन कृतार्थ हो गया होगा.

अयोध्या में होली – भगवान् राम ने तो अपने समय में होली खेल ली, लेकिन कलयुग में इंसान ही होली खेलते हैं.

कलयुग में इस बार यानी साल २०१८ में भगवान् कृष्ण भगवान् राम की नगरी में जाएंगे और होली खेलेंगे. जी हाँ, बिलकुल सच है ये. अब ये दोनों श्याम सलोने जब एक दूसरे को रंग लगाएंगे तो पूरी सृष्टी ही श्याम रंग में रंग जाएगी.

साल २०१८ की होली सभी के लिए बड़ी ही शुभ और मंगल होगी, क्योंकि इस बार होली में कृष्ण भगवान् अयोध्या नगरी जा रहे हैं.

ऐसी खबरें आ रही हैं कि इस बार अयोध्या से संत गुलाल लेकर मथुरा जाएंगे जहाँ पर गुलाल में अयोध्या का रज मिल जाएगा. आप सभी को बता दें की श्रीकृष्ण जन्मस्थान पर इस बार 26 फरवरी को होली होने वाली है और इस होली में गुलाल का उपयोग होगा साथ ही प्रसाद के रूप में भी गुलाल ही बांटा जाएगा.

पहले राम जी की नगरी से लोग जाएंगे फिर होली के दिन मथुरा के संत अयोध्या गुलाल लेकर आएँगे, जो इस बात का द्योतक होगा कि भगवान कृष्ण स्वयं होली खेलने आए हैं.

होली है ही ऐसा त्योहार, जिसमें लोग दुश्मनी भूलकर एक दूसरे को गले लगा लेते हैं.

कलयुग में लोगों के बीच मतभेद ज्यादा और प्यार कम है. ऐसे में संतों का ये काम करना लोगों को प्यार और शांति का सन्देश देगा. कृष्ण के यहाँ जाने के लिए अभी से ही सभी जगहों पर होली की धूम मचने लगी है सभी लोग होली को लेकर उत्तेजित नजर आ रहें है. इन दिनों आप देख सकते है भगवान श्रीकृष्ण की नगरी में होली की धूम है और यहाँ हर दिन मंदिरों में गुलाल उड़ाया जा रहा है.

ऐसे में ज़रा सोचिए वो नज़ारा क्या होगा जब भगवान राम के यहाँ के संत कृष्ण जी की नगरी में गुलाल लेकर आएँगे.

मथुरा में तो अभी से होली  की धूम साफ़ नज़र आ रही है. बच्चे बूढ़े सभी होली के रंग में डूब चुके हैं.

मंदिरों में अभी से ही कृष्ण के होली गीत बजने लगे है. बूढ़े अपने रेडिओ पर होली के गानों की डिमांड करने लगे हैं. जगह-जगह होली के आयोजनों की तैयारियां चल रही हैं. इस बार श्रीकृष्ण जन्मस्थान में रंगभरनी एकादशी वाली होली का आयोजन होना है और इसके लिए भगवान को लगने वाला गुलाल अयोध्या से मंगवाया जा रहा है. इस बार का गुलाल ख़ास होने वाला है क्योंकि इस बार भगवान राम के शहर से गुलाल आएगा. मथुरा के लोग भी इस खबर से बहत ही खुश हैं.

उन्हें ऐसा लग रहा है ऐसा करने से देश में प्यार का सन्देश जाएगा.

अयोध्या में होली – कलयुग की ये होली सच में ख़ास ही होने वाली है. जब दो पवित्र जगहों के लोग गुलाल लेकर एक दूसरे को गले लगाएंगे तो सच में भगवान् भी उस समय धरती पर आ जाएंगे.

Don't Miss! random posts ..