ENG | HINDI

इस भारतीय ने फ्लोरिडा को दिए 1300 करोङ रुपये, वजह है बहुत गजब

किरण पटेल

किरण पटेल – ऐसा कहा जाता हैं इस दुनिया में हर सेकंड हजारों लोग पैदा होते हैं और ज्यादातर अपने जीवन की अपनी हर जरूरत और ख्वाहिश के लिए भगवान से या किसी और से मदद की उम्मीद करते रहते हैं।

लेकिन ऐसे बहुत कम लोग होते हैं, जो अपने दम पर न केवल अपनी जिंदगी बनाते हैं बल्कि दूसरे को देने वाले भी बनते हैं। डाॅ किरण पटेल भी ऐसा ही एक नाम है, जिन्होंने अपने लिए तो एक रुपये का मौल भी समझा । लेकिन दान देते वक्त 1300 करोङ रुपये दान कर दिए ।

डाॅ पटेल कार्डियोलाॅजिस्ट और एक बिजनेसमैन भी है।

किरण पटेल अपनी फैमिली के साथ अमेरिका में रहते हैं । किरण पटेल ने हाल ही में 1300 करोङ रुपये फ्लोरिडा यूनिवर्सिटी को दान दिए है ताकि वो इन पैसो से मेडिकल यूनिवर्सिटी बना सके । नोवा साउथ ईस्टर्न यूनिवर्सिटी किरण पटेल दारा दान की हुई इस राशि से 2 मेडिकल कॉलेज तैयार करवाएगी। एक काॅलेज फ्लोरिडा में बनवाया जाएगा और एक भारत में।

डॉक्टर 1300 करोङ दान में देने के बाद अमेरिका में सबसे ज्यादा धनराशि दान में देने वाले पहले अमेरिकी भारतीय बन गए हैं। हालांकि किरण पटेल का कहना है कि अगर उनके पास पैसे नहीं भी होते तब भी वो लोगों की मदद करने  से पीछे नहीं हटते । डाॅ किरण पटेल गुजरती फैमिली से बिलोंग करते हैं। डॉ किरण पटेल के इतने दान का सबसे बङा कारण ये है कि उन्होंने भारत और जाम्बिया की लाइफ का अनुभव किया है जिस वजह से वो दोनों जगह के लोगों की जिंदगी के बारे में बेहतर समझते हैं।

किरण पटेल के अनुसार भारत -फ्लोरिडा में मेडिकल कॉलेज बने से दोनो देशों की स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार आएगा । साथ ही भारत पढने आने वाले जाम्बिया स्टूडेंट्स को अच्छी स्वास्थ्य सेवाएं मिलेंगी। और वो भारत पढने के लिए आएंगे क्योंकि अमेरिका के मुकाबले भारत में शिक्षा के लिए उन्हें कम खर्च करना पङेगा। वही दूसरी तरफ भारतीय स्टूडेंट्स को फ्लोरिडा के मेडिकल कॉलेज में एक साल पढने का मौका मिलेगा।

डाॅ किरण पटेल बदलते समाज के उन चेहरो में से है जो अपनी सम्पत्ति का हिस्सा मंदिरों और धार्मिक स्थलों पर दान करने की बजाय समाज को बेहतर बनाने में दे रहे हैं।

डाॅ पटेल ने अपने मूल स्थान  गुजरात के एक गांव में 50 बिस्तर वाला एक हाॅस्पिटल बनवाया है। इसके अलावा गांव के विकास के लिए ओर भी कई चीजों के लिए दान किया है। डाॅ पटेल ये सब सिर्फ इसलिए करते हैं क्योंकि उनके अनुसार उनके पिता के पास ज्यादा पैसा नहीं था इसके बावजूद भी उन्होनें गुजरात और जाम्बिया दोनो जगह लोगों की मदद से हाथ पीछे नहीं किया।फिर किरण पटेल के पास तो मदद करने का सामर्थ्य भी है।

Don't Miss! random posts ..