ENG | HINDI

कल्कि अवतार आ रहा है कुछ इस तरह! नहीं पता था ना?

lord-kalki

कलयुग के अंत की सभी लोग कामना कर रहे हैं!

जिस हिंसा, नफ़रत और बैर के रास्ते पर आज मनुष्य चल रहा है, उसे देखते हुए लगता है कि भगवान को जल्द ही धरती पर जन्म लेना पड़ेगा ताक़ि इस काली रात का ख़ात्मा हो और एक नए सूर्य का उदय हो सके!

इसी सन्दर्भ में कल्कि पुराण के अनुसार, भगवान कृष्ण की ही तरह, भगवान विष्णु के बाईसवें अवतार का जन्म जल्द ही होगा! कहा जाता है कि जन्म के वक़्त उनके 4 हाथ होंगे जिसे देख उनके माँ-बाप हैरान रह जाएँगे! लेकिन ब्रह्मा जी के कहने पर उन्हें एक आम आदमी की तरह जीवन बिताना होगा जिसके चलते एकदम से दो हाथ ग़ायब होंगे और माँ-बाप को यही लगेगा कि उन्हें शायद कोई भुलावा हुआ है! उनका जन्म होगा संभल नामक गावँ में रहने वाले विष्णुयश ब्राह्मण के यहाँ! उनसे पहले उनके 3 बड़े भाई और होंगे! उनके नाम होंगे कवि, प्राज्ञ और सुमंत्रक!

पुराणों के अनुसार कल्कि जी की शिक्षा शुरुआत में उनके घर पर ही होगी, उनके पिता के द्वारा! इसके बाद उन्हें आगे की शिक्षा के लिए गुरुकुल में जाना होगा जहाँ से परशुराम उन्हें अपने घर ले जाएँगे अपनी शिक्षा देने के लिए! इस तरह कल्कि भगवान अपने आप को इंसान के रूप में पापियों का वध करने के लिए तैयार करेंगे!

पुराणों में यहाँ तक लिखा गया है कि भगवान कल्कि देवदत्त नाम के सफ़ेद घोड़े पर सवार होकर अपनी तलवार से दुश्मनों का वध करेंगे और इसके साथ ही कलयुग का अंत होगा! एक बार धरती से सारा पाप मिट गया, तब यहाँ एक बार फिर सतयुग की शुरुआत होगी! भगवान कल्कि के पास ऐसी शक्ति होगी जिसके ज़रिये वो समय का मार्ग बदल देंगे और हर ग़लत को एक बार फिर सही कर देंगे ताक़ि इंसान सतयुग का आनंद उठा सकें! धरती पर धर्म की स्थापना हो और विश्व में शान्ति, ख़ुशहाली, न्याय और भगवान के प्रति आस्था का एक बार फिर से जन्म हो!

उम्मीद करते हैं कि ऐसा वक़्त जल्द ही आये और हम सबको इस हिंसा, अधर्म और पीड़ा के युग, कलयुग, से जल्द से जल्द छुटकारा मिले!

Don't Miss! random posts ..