ENG | HINDI

18 साल के लङके ने बनाई एक अनोखी ‘ब्रा’, खूबी जान उङ जायेंगे होश !

ब्रैस्ट कैंसर ब्रा

ब्रैस्ट कैंसर ब्रा – कहते हैं किसी की उम्र से उसके हुनर का अंदाजा नहीं लगाया जा सकता । हालांकि एक पुरुष से किसी महिला की परेशानियों के बारे में सोचने और उसका हल खोजने की उम्मीद करना 18 साल की उस उम्र में तो  जब हमें ये तक पता नहीं होता कि हमें करना क्या है?

असंभव लगता है। हैना। शायद ख्यालों में भी असंभव लगे।

फिर 18 साल की आयु में कोई ब्रिस्ट कैंसर जैसी बीमारी से बचने का इलाज ढूँढ निकाले तो । पर कहते हैं असंभव भी सभंव हो सकता है। बस वो सोच चाहिए।

वैसे भी आज के हाइटैक जमाने में कुछ भी संभव है। क्योंकि कई बच्चे ऐसे भी होते हैं जो परिस्थितियों अनुभव के कारण जल्दी बङे हो जाते हैं और समाज में अपनी अलग पहचान बनाते हैं।

मैक्सिको में रहने वाले जूलियन ने ऐसा अनोखा इनवेनशन किया है, जिसे देख सभी हैरत में है ।

ब्रैस्ट कैंसर ब्रा

जूलियन अभी सिर्फ 18 साल का है  और उसने इतनी कम उम्र में अपने दोस्तों के साथ मिलकर एक ऐसी ब्रैस्ट कैंसर ब्रा तैयार की है जो आजकल महिलाओं की सबसे बङी समस्या ब्रैस्ट कैंसर से बचने में मदद करती है। इस ब्रैस्ट कैंसर ब्रा की खूबियां जान कोई भी हैरान हो जाएगा । इस ब्रा को पहने वाली महिला को ब्रा पहनते ही पता चल जाएगा कि उसे ब्रिस्ट कैंसर है या नहीं ।

साथ ही अगर होने वाला होगा तो भी इस ब्रैस्ट कैंसर ब्रा में इस तरह की तकनीक फिट की गई है जिसके मदद से  सीधा फोन पर अलर्ट मैसेज आ जाएगा और महिला को पता चल जाएगा कि उसे कैंसर होने वाला है।

सिर्फ कैंसर ही नहीं बल्कि शरीर में किसी भी बीमारी के  लक्षण मिलने पर मोबाइल पर अर्लट मैसेज भेज देता है।

ब्रैस्ट कैंसर ब्रा

इस ब्रा में कुल 200 सेंसर लगे हैं जो ब्रैस्ट में कोई भी प्राब्लम होने पर अलर्ट साइन भेजते हैं। लेकिन इस ब्रा को हफ्ते में केवल एक बार पहना है. ब्रा को पहने के बाद इस ब्रा में लगे सेंसर  ब्रेस्ट के कर्लर और टेंपरेचर को मापेंगे। कोई प्रॉब्लम नजर आने पर सीधा अर्लट साइन देंगे।

अगर देखा जाए तो ये ब्रा बिल्कुल  स्मार्टफोन्स की तरह काम करती है।

आज दुनिया भर में हजारों महिलाएं ब्रिस्ट कैंसर का शिकार है। कई महिलाओं को इस कैंसर के कारण अपनी जान भी खोनी पङी है।
हालांकि इस ब्रा को लेकर आप भी सोच रहे होंगे कि  इतनी कम उम्र के बच्चे के दिमाग  इतनी बङी बीमारी को लेकर इतनी गंभीरता कैसे आई होगी, जो उसने इस ब्रा को बनाने का सोचा ।

दरअसल जूलियन की माँ भी ब्रैस्ट कैंसर की शिकार थी । उस वक्त जूलियन सिर्फ 13 साल का था । डॉक्टर ने बचने की उम्मीद तक छोङ दी थी हालांकि वो बच गई। लेकिन 13 साल के बच्चे पर अपनी मां को खोने का जो डर पैदा हुआ उसी ने जूलियन को इस ब्रा को बनाने की प्रेरणा दी।

इसलिए शायद कहते हैं कि किसी भी चीज के होने के पीछे कोई न कोई कारण जरुर होता है।

जूलियन 13 साल की उम्र में अपनी माँ के दर्द को महसूस किया जिस वजह से वो आज कई लोगो की जान बचाने के लिए इस इनोवेशन को करने में सफल हो पाया।

अब तो लोग उम्मीद कर रहे हैं कि ये ब्रैस्ट कैंसर ब्रा सभी टेस्ट को पास कर जल्द से जल्द बाजार में आए ताकि लाखों महिलाएं ब्रिस्ट कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी से बच पाएं।

Don't Miss! random posts ..