ENG | HINDI

देश को मालामाल कर खुद कंगाल हो गया ये इकलौता राष्ट्रपति

जोस मुजिका

जोस मुजिका – भारत की तरह उत्तर अमेरिका के उरुग्‍वे देश में राष्‍ट्रपति सबसे बड़ा नागरिक होता है।

इस देश में जोस मुजिका नाम के राष्‍ट्रपति थे जिन्‍होंने देश को मालामाल कर दिया लेकिन खुद कंगाल हो गए।

जोस मुजिका –

जीते हैं सादा जीवन

उरुग्‍वे के पूर्व राष्‍ट्रपति जोस मुजिका आज 82 साल के हो चुके हैं। उरुग्‍वे के इतिहास में उनका नाम आज भी बड़े सम्‍मान के साथ लिया जाता है। राष्‍ट्रपति जैसे ऊंचे पद पर होने के बावजूद उन्‍होंने हमेशा सादा जीवन जीया है। राष्‍ट्रपति होते हुए भी उन्‍होंने एक आम नागरिक की जिंदगी बिताई थी।

बड़े फेमस राष्‍ट्रपति हैं

1960 और 70 के दशक में उरुग्‍वे के टुपामारोस गुरिल्‍ला के सदस्‍य के रूप में बिताए। राष्‍ट्रपति बनने से पहले जोस मुजिका को छह बार गोली लगी और वे 14 साल तक जेल में भी रहे। वह क्‍यूबा की क्रांति से प्रेरित एक वामपंथी सशस्‍त्र संगठन से जुड़े हुए थे। इसके बाद वह राजनीति से जुड़ गए। 2010 में उरुग्‍वे के 40वें राष्‍ट्रपति के रूप में शपथ ली और 2015 में उन्‍होंने देश को शिखर पर पहुंचाकर राजनीति से सन्‍यास ले लिया।

2 कमरे का मकान और खेती का काम

उरुग्‍वे की राजनीति में मुजिका को दुनिया का सबसे गरीब राष्‍ट्रपति माना जाता है। कहा जाता है कि उन्‍होंने हमेशा गरीबी का जीवन जीया है।जोस, राष्‍ट्रपति भवन के बजाय 2 कमरे के मकान में रहते थे। वह आमजन की ही तरह अपने कपड़े खुद धोते थे और कुएं से भी पानी भरते थे।मुजिका ने हमेशा खेती से ही अपना जीवनयापन किया है।

सैलरी कर देते थे दान

रिकॉर्ड है कि मुजिका ने कभी भी अपनी सैलरी पूरी नहीं ली। वह अपनी सैलरी की 90 प्रतिशत रकम दान कर देते थे। मुजिका ने सभी तरह की सुविधाएं लेने से इंकार कर दिया था। वेतन में मुजिका को 13300 डॉलर मिलते थे और उसमें से वो 12000 डॉलर गरीबों को दान कर देते थे।

इस तरह जोस मुजिका दुनिया के सबसे गरीब राष्‍ट्रपति कहलाते हैं। उनके जैसा सादा जीवन आज तक किसी ने नहीं जीया है। मुजिका ने अपने कार्यकाल के दौरान उरुग्‍वे को तरक्‍की के रास्‍ते पर बहुत आगे बढ़ाया है।

Don't Miss! random posts ..