ENG | HINDI

इस्लामाबाद पुलिस को बार-बार फ़ोन करके कोई कह रहा है ‘जय हिन्द’ बोलो!

जय हिन्द के नारे

जय हिन्द के नारे – हमारे पड़ोसी देश पाकिस्तान में क्या होता है क्या नहीं इससे हमारा कोई मतलब नहीं है, लेकिन पिछले दिनों पाकिस्तान पुलिस को एक अनजान फ़ोन कॉल ने परेशान कर दिया है जिसके तार सीधे तौर पर भारत से जुड़े होने की बात कही जा रही है.

दरअसल पिछले दिनों इस्लामाबाद पुलिस को एक अनजान फ़ोन कॉल आया जिसको लेकर उनकी न केवल टेंशन बढ़ गई बल्कि इसके लिए उन्हें शिकायत तक दर्ज करानी पड़ी.

दरअसल हुआ कुछ ऐसा कि एक फ़ोन कॉल ने पाकिस्तान पुलिस की नींद उड़ा दी.

खबरों के अनुसार 25 दिसंबर को इस्लामाबाद पुलिस को एक शख्स ने लगातार कई बार फ़ोन किया और ‘जय हिंद’ के नारे लगाता रहा.

उस शख्स ने खुद तो नारे लगाये ही साथ ही इस्लामाबाद पुलिस को भी नारे लगाने को कहा. नारे नहीं लगाने पर उसने पुलिस वालो को गालियां भी दी. पिछले दिनों ये खबर तब वायरल हो गई जब आप नए साल का जश्न मनाने में मशगूल थे तभी पाकिस्तान के एक अख़बार द एक्सप्रेस ट्रिब्यून ने बताया कि इस्लामाबाद पुलिस को एक अनजान शख्स ने फ़ोन लगा-लगाकर नाक में दम कर दिया.

कहा आया था फ़ोन?

बताया जा रहा है कि ये फ़ोन कॉल इस्लामाबाद पुलिस के कंट्रोल रूम में आया था. पाकिस्तानी अखबार द ट्रिब्यून एक्सप्रेस के मुताबिक इस कथित फ़ोन कॉल को लेकर अब पुलिस की एक टीम जाँच में जुटी हुई है और वो ये पता लगाने की कोशिश कर रही है कि ये 25 दिसंबर को आये इस फ़ोन के तार किस देश से जुड़े है. वहीं इस्लामाबाद पुलिस का कहना है कि फ़ोन कॉल करने वाला शख्स भारतीय हो सकता है, क्योंकि वो जय हिन्द के नारे लगा रहा था.

जय हिन्द के नारे

सुबह के 3:30 बजे आया था फ़ोन-

25 दिसम्बर को आये इस फ़ोन कॉल को सबसे पहले पाकिस्तान पुलिस के सब-इंस्पेक्टर शब्बीर अहमद ने उठाया था. शब्बीर ने पूछताछ में बताया कि फ़ोन कॉल सुबह के करीब 3 :30 बजे आया था.

जय हिन्द के नारे

बड़े अधिकारीयों से बात करने की मांग-

सब इंस्पेक्टर शब्बीर अहमद ने बताया कि उस फ़ोन करने वाले शख्स ने आईजी पुलिस और डीआईजी से बात करने की मांग की, बात नहीं कराने पर उस शख्स ने सब इंस्पेक्टर को गालियां दी. इस दौरान फ़ोन करने वाला शख्स बार-बार जय हिन्द के नारे भी लगा रहा था और पुलिसकर्मी को भी नारे लगाने के लिए कह रहा था. नारे नहीं लगाने पर वह अभद्र भाषा का इस्तेमाल कर रहा था.

जय हिन्द के नारे

अब जाँच में जुटी है पुलिस की एक टीम-

जाँच में जुटी पुलिस की एक टीम का कहना है कि शुरूआती जाँच में पता चला है कि फ़ोन करने वाला शख्स भारतीय ही था. उस शख्स की पहचान ‘जैस्शे’ के तौर पर हुई है और वो भारत से ही कॉल कर रहा था. फ़िलहाल पुलिस जाँच कर रही है इसके लिए पुलिस ने पाकिस्तान टेलीकम्यूनिकेशन कम्पनी लिमिटेड से भी मदद मांगी है.

जय हिन्द के नारे

जाँच में जुटी पुलिस की टीम ये जानना चाहती है कि इस शख्स ने फ़ोन किस मकसद के लिए किया था.

Article Categories:
विशेष

Don't Miss! random posts ..