ENG | HINDI

हैवानियत की सारी हदें तोड़ डाली हैं ISIS ने! सेक्स स्लेव्स का ये हाल पढ़ के रूह काँप उठेगी!

isis sex slavery

आई एस आई एस पिछले एक साल में दुनिया का सबसे ख़तरनाक आतंकवादी गुट बन के सामने आया है|

ना सिर्फ़ मिडिल ईस्ट, जहाँ सीरिया और इराक़ में इनका राज चल रहा है, बल्कि यूरोप और अमरीका तक इन्होंने खतरे की घंटियाँ बजा दी हैं! सरेआम क़त्लेआम करना, लूटना, लोगों को ग़ुलाम बनाना, उन्हें अपने धर्म पर चलने और उसे मानने के लिए मजबूर करना ही इनका उद्देशय रहा है| लेकिन हाल ही में उनका एक और घिनौना और घृणा पैदा करने वाला सच सामने आया है|

कहने को ये आतंकवादी गुट इस्लाम के रास्ते पर चलता है लेकिन क़ुरान में लिखी गयी बातों को तोड़-मरोड़ के पेश करने में इन्होंने महारत हासिल कर ली है|

इसी के चलते अब इन्होंने फ़तवा जारी किया है कि जिन औरतों और लड़कियों को इन्होंने बंदी बना लिया है, जिनकी ख़रीद-फ़रोख्त ये खुलेआम करते हैं, ऐसी सेक्स स्लेव्स के साथ कैसा व्यवहार होना चाहिए!

फ़तवे के ये कागज़ात अमरीकी सेना को मई में मिले और अब जाकर उनका अनुवाद हो पाया है! इस फ़तवे के अनुसार, लड़कियों को सेक्स स्लेव बनाने पर कोई मनाही नहीं है बल्कि कहा गया है कि ये आई एस आई एस के आतंकवादियों के लिए ज़रूरी है| साथ ही साथ अनेक क़ायदे बनाये गए हैं सेक्स स्लेव्स के इस्तेमाल को लेकर| एक क़ायदा कहता है कि एक मालिक अगर अपनी सेक्स स्लेव के साथ सेक्स करता है तो उस सेक्स स्लेव की बेटी के साथ उसे सेक्स करने का हक़ बिलकुल नहीं होगा! और अगर बेटी के साथ सेक्स किया तो उसकी माँ को छूना हराम होगा! इसी तरह अगर एक सेक्स स्लेव के साथ मालिक के सेक्शुअल सम्बन्ध हैं तो मालिक का बेटा उस सेक्स स्लेव के साथ सम्बन्ध नहीं बना सकता! और बेटे के सम्बन्ध हुए तो पिता को उस सेक्स स्लेव से दूर रहना होगा!

इसी तरह की और भी घटिया बातें लिखी गयी हैं जिनका विरोध कड़े शब्दों में अब सारी दुनिया कर रही है लेकिन आई एस आई एस पर इसका कोई असर नहीं हो रहा! सूत्रों के अनुसार ये आतंकवादी गुट छोटी-छोटी 12 साल की बच्चियों को भी अपनी हवस की भूख का शिकार बना रहा है| सिर्फ़ लिखने को लिख दिया है कि सेक्स स्लेव को इज़्ज़त दें, उनके साथ नर्म व्यवहार करें, उनसे वही काम करवाएँ जो वो कर सकें और उन्हें मारें-पीटें नहीं| लेकिन लड़कियों और औरतों को सेक्स स्लेव बनाना ही उनकी बेइज़्ज़ती करना है, उनके ख़िलाफ़ हिंसा है और उनके साथ अमानवीय व्यवहार है!

आशा है कि जल्द ही इस गुट का ख़ात्मा हो और दुनिया को इनके आतंक से आज़ादी मिले!

Don't Miss! random posts ..