ENG | HINDI

ऐसा निवेश जो देगा आपको ज़िंदगीभर ब्याज

सिखने में निवेश

सिखने में निवेश – ज़िंदगी की अगली सीढ़ी पर पहुंचने के लिए एक सामान्य विचार को अपनाया जा सकता है कि ज़्यादा पाने के लिए ज़्यादा जानना भी पड़ता है. आप जहाँ भी कार्य करते हों आपके नियोक्ता द्वारा दिया जाने वाला मुआवज़ा आपके द्वारा अपने कार्य में शामिल किए गए मूल्य के आधार पर निर्धारित होता है.

वहीं, इस मूल्य को हमें अर्थशास्त्र के शब्दकोष का हिस्सा नहीं मान लेना चाहिए. ये तो नैतिकता एवं व्यावहारिकता का हिस्सा है जिसका अर्थ है कि ज़्यादा हासिल करने के लिए, ज़्यादा सीखें. अपनी प्रतिस्पर्धा को ज़्यादा जानें, ज़्यादा सुधारें व ज़्यादा सफल हों.

सिखने में निवेश

वैसे भी किसी को किसी कंपनी में अपना स्थाई करियर बनाने के लिए क्या करना होता है? तब सीधा सा जवाब यही है कि हम जो भी कार्य करें उसमें हम इतने परंपरागत हो जाएं, इतने ज्ञानी, संपूर्ण एवं दक्ष बन जाएं कि कंपनी आपके बिना चल ही न पाए. यानी कि ऐसा बन जाया जाए कि आपको अनदेखा न किया जा सके. गौरतलब है कि जागरूकता चुनाव से जन्म लेती है, जो फिर परिणाम लेकर आती है.

जब आप ये जान लेते हैं कि सर्वश्रेष्ठ क्या होगा तब आप अपने अंदर एक नई तरह की जागरूकता को विकसित होता देख लेते हैं. बेहतर जागरूकता के साथ ही एक बेहतर चुनाव किया जा सकता है और बेहतर चुनाव से ही आप निश्चित तौर पर खुदको एक बेहतर परिणाम हासिल करते हुए देख सकते हैं. अपने सीखने में निवेश करना एवं अपनी कुशलताओं को विश्वस्तरीय बनाना निवेश का सबसे समझदारी भरा तरीका है.

सिखने में निवेश

अक्सर ये भी देखने में आता है कुछ लोग हमेशा यही कहते रहते हैं कि वे बड़े ही व्यस्त हैं.

इतने व्यस्त कि वे कुछ सीखने के लिए व अपनी कार्यकुशलता को और बढ़ाने के लिए दिन के 24 घंटों में से अपने लिए कुछ मिनट भी नहीं निकाल सकते. बहुत सारे लोग आज व्यस्त होने की जगह, व्यस्त लगने की जुगत में लगे रहते हैं. मैं कुछ ऐसे व्यस्त्ततम लोगों को जानता हूँ जो रोज़ अपने लिए पढ़ने के लिए या सी.डी सुनने के लिए या फिर कोई ऑनलाइन ट्रेनिंग कोर्स के लिए कम-से-कम एक घंटा तो निकाल ही लेते हैं.

सिखने में निवेश

हमारा प्रयास ऐसा होना चाहिए कि हम व्यस्त लगने की बजाए व्यस्त बनें, सिखने में निवेश करें और एक बेहतर परिणाम हासिल करें. ये ध्यान रहे कि सीखने पर निवेश किया गया समय हमें जिंदगीभर ब्याज़ देता रहता है. आज की तारीख में इंटरनेट पर भी ऐसे बहुत से साधन उपलब्ध हैं जो आपको जीवनपर्यंत सीखने वाला बना सकते हैं. इन साधनों में ब्लॉग, मुफ्त में पॉडकास्ट, किताबें, ऑनलाइन कोर्स आदि शामिल हैं. तो फिर आप सोच क्या रहें हैं? अपनी जिंदगी को संवारने के लिए आज ही अपना पहला कदम उठाईये और कुछ नया पढ़ने के लिए समय निकालिए. ये जानना आपके लिए बहुत ही लाभदायक होगा कि आपके पेशे में टॉप पर बैठा शख्स अपनी जगह पर कायम बने रहने के लिए क्या कुछ नया रोज़ सीखता रहता है. सिखने में निवेश कीजिये.

सिखने में निवेश – हमें हमेशा ये ध्यान रखना चाहिए कि हमें मिला हुआ समय बहुत की कीमती है. जो इंसान अपने समय की कीमत नहीं समझता फिर उसका कोई भला नहीं कर सकता. इसीलिए हमें कोशिश करनी चाहिए कि हम अपने समय के मालिक बनें. इसी के साथ हम एक उच्चतम जीवन जीना सीखें.

Don't Miss! random posts ..