ENG | HINDI

भायखला की जेल में क़ातिल हसीना की एंट्री !

woman-in-jail

ज़्यादा चौंकने की ज़रुरत नहीं है और बहुत ज़्यादा खुश होने की भी ज़रुरत नहीं….

हम यहाँ किसी बॉलीवुड अदाकारा या फिर किसी सुपर हॉट सनसनी की बात नहीं कर रहे.

हाँ लेकिन हम जिसकी बात कर रहे हैं, वो किसी हसीना से कम भी नहीं। जी हाँ, पूरी दुनिया में चर्चे हैं इनके। इनकी अदाओं के सब दीवाने हैं. कुछ दिन पहले तक तो इन मोहतरमा का नाम बड़े-बड़े रसूखों में लिया जाता था. अब ये हैं ही ऐसी कि दो चार लोगों की बीच जमती नहीं. इनकी पर्सनालिटी इनके कद से बहुत बड़ी हो चुकी है और शायद इसीलिए आज से कुछ दिन पहले तक लोग इनकी अदा और स्टाइल के दीवाने थे.

अब आप भी सोच रहे होंगे कि मैं कितना फूटेज खा रही हुँ.

आखिर ऐसा भी वो कौन है, जिसकी तारीफ में मैंने पूरा पैराग्राफ ही ले लिया। अरे दोस्तों थोड़ा सब्र करिए। क्या सब्र नहीं हो रहा आपसे ? तो चलिए बता ही देते हैं आपको कि कौन है वो हसीना ?

हम बात कर रहे हैं शीना बोरा मर्डर केस में इन्वॉल्व इन्द्राणी मुखर्जी की.

सोमवार को इस मामले की सुनवाई में मुंबई की बांद्रा कोर्ट ने इन्द्राणी को 14 दिन की न्यायायिक हिरासत में भेज दिया। कोर्ट के आदेश के बाद इन्द्राणी मुखर्जी को मुंबई के भायखला जेल में भेज दिया गया.

इससे पहले इन्द्राणी मुखर्जी पुलिस हिरासत में थी.

आपको बता दें कि भायखला की इस महिला कारागार में वैसे मर्डर के आरोप में पहले से ही कुल 27 महिला आरोपी बंद हैं.

इस जेल में कुल कैदियों की संख्या लगभग 215 है. अब इन्द्राणी मुखर्जी भी मर्डर के जुर्म में ही जेल की हवा खाने अंदर गई है, लेकिन उन 27 कैदियों से इनकी पर्सनालिटी कहीं ऊपर है.

भाई हो भी क्यों न। मैडम पूर्व CEO जो हैं.

पदवी में भले ही  इन्द्राणी मुखर्जी उन महिला कैदियों से बड़ी हों, लेकिन हिरासत में तो कुछ वैसे ही जुर्म के कारण ली गई हैं. अब देखना ये होगा कि इन कैदियों के बीच कैसे इन्द्राणी मुखर्जी अपनी गणित बिठा पाती हैं ?

अब तक तो इन्द्राणी अपने आपको बहुत चालक और क्रूर समझती होंगी, लेकिन अब जेल के अंदर उन 27  कैदियों के सामने उनके लिए रहना मुश्किल हो सकता है।

इस कातिल हसीना के ठाट-बाट धरे के धरे रह जाएंगे या फिर बाकी की 27 इन्द्राणी की ग़ुलाम हो जाएंगी ?

ये तो समय ही बताएगा।

Don't Miss! random posts ..