ENG | HINDI

पाकिस्‍तानी जेलों में भारतीयों की जिंदगी देखकर रूह कांप उठेगी

पाकिस्‍तानी जेल

पाकिस्‍तानी जेल – आजादी के बाद से ही लेकर पाकिस्‍तान और भारत के बीच ना जाने कैसा कड़वाहट भरा रिश्‍ता है जबकि पाकिस्‍तान खुद कभी भारत का ही हिस्‍सा हुआ करता था। भारत की ही मदद से पाकिस्‍तान एक अलग देश बन पाया था लेकिन फिर भी ना जाने क्‍यों दोनों देशों के बीच इतनी कड़वाहट रहती है।

पाकिस्‍तान की शीर्ष अदालत ने अपनी जेलों में बंद कैदियों की जानकारी वाली एक रिपोर्ट जारी की है।

इस रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्‍तान की जेलों में 470 भारतीय बंद हैं और इनमें से 418 मछुआरे हैं जो गलती से मछली पकड़ते हुए पाकिस्‍तान की सीमा में दाखिल हो गए थे। वहीं दूसरी ओर पाकिस्‍तान के विदेश मंत्रालय ने भी एक रिपोर्ट जारी की है जिसके अनुसार भारतीय जेलों में 357 पाकिस्‍तानी बंद हैं।

इस बारे में पाक के विदेश मंत्रालय काक हना है कि भारत और पाकिस्‍तान के बीच कैदियों को लेकर आखिरी कैद न्‍यायिक समिति की बैठक अक्‍टूबर 2013 में की गई थी लेकिन उसके बाद से दोनों देशों के बीच स्थिति बिगड़ गई और वार्ता रद्द हो गई जिस वजह से कैदियों को लेकर कोई न्‍यायिक बैठक नहीं हो पाई।

खबरों की मानें तो एक जुलाई को भारत और पाकिस्‍तान के बीच कैदियों की सूची का आदान प्रदान हुआ था और इस सूची के मुताबिक भारतीय जेलों में पाकिस्‍तान के 249 आम नागरिक बंद हैं और 108 मछुआरे हैं। 2016 से भारत ने 31 मछुआरों समेत 114 पाकिस्‍तानियों को रिहा कर दिया है जबकि पाकिस्‍तान ने 941 मछुआरों समेत 951 भारतीय कैदियों को रिहा किया है।

पाक की जेलों में भारतीय कैदियों का क्‍या हाल होता है ये तो आप सरबजीत की कहानी से ही जान सकते हैं। सरबजीत को वापिस लाने के लिए भारतीय सरकार ने 20 साल से भी ज्‍यादा समय तक प्रयास किए और जब उनके वापिस लौटने का कोई आसार दिख रहा था तो पाक की जेल में उन्‍हें यातनाएं देकर मार दिया गया और नाम दिया गया पाक कैदी के साथ आपसी झड़प में सरबजीत की मौत हो गई।

कुछ इसी तरह पाक की जेल में भारतीय कैदियों के साथ सलूक किया जाता है। उन्‍हें जंजीरों से बांधकर रखा जाता है और कभी-कभी खाना भी नहीं दिया जाता।

पाकिस्‍तानी जेल में भारतीयों की जिंदगी नर्क से भी बदतर है। पाक की जेलों में बंद भारतीय कैदियों का कहना है कि उन्‍हें यहां हर कोई नफरत की नज़रों से देखता है।

पाकिस्‍तान को अपना अस्‍तित्‍व भारत से ही मिला है लेकिन फिर भी वो इसकी इज्‍जत नहीं करता और आए दिन भारत पर कभी सीमा पर हमले करता है तो कभी आतंकवाद ज़रिए नफरता फैलाता है। भारत से दुश्‍मनी को लेकर पाकिस्‍तान अकसर सुर्खियों में बना रहता है। पड़ोसी देश पाकिस्‍तान की नापाक हरकतों के साथ उसके कानून भी दुनिया की नज़र में आते रहते हैं।

ये है पाकिस्‍तानी जेल – आजादी के बाद से अब तक भारत और पाकिस्तान के बीच युद्ध चार बार हो चूका है लेकिन फिर भी पाक के दिमाग में ये बात नहीं बैठती है कि वो भारत का मुकाबला करने के काबिल नहीं है और अमन और शांति का रास्‍ता ही सबसे सही है।

Don't Miss! random posts ..