ENG | HINDI

जिन लोगों की हथेली पर होते हैं ये निशान वो होते हैं मालामाल

पामिस्‍ट्री के अनुसार व्‍यक्‍ति की हथेली पर बनी रेखाओं और खास निशान से उसके स्‍वभाव के बारे में पता लगाया जा सकता है। साथ ही ऐसा भी कहा जाता है कि हथेली में हर इंसान की किस्‍मत छिपी होती है। रेखाओं के जाल से हथेली पर कुछ ऐसे निशान भी बनते हैं जो हर किसी की हथेली पर नहीं होते हैं। अगर आपकी हथेली पर ये पांच तरह के निशान हैं तो आप भाग्‍यशाली हैं।

समुद्रशास्‍त्र के अनुसार जिस व्‍यक्‍ति कह हथेली पर अंगूठे के जोड़ पर ‘यव’ का निशान होता है वह बहुत अमीर होता है। ये चिह्न पूर्व जन्‍म में आपके अच्‍छे कर्मों का प्रतिबिंब हो सकता है। जिस इंसान की हथेली पर यह चिह्न होता है वो या तो जन्‍म से ही अमीर होता है या फिर अपनी मेहनत से पैसा कमाता है। इन्‍हें हमेशा अपने भाग्‍य का साथ मिलता है। अगर हथेली में एक से अधिक यव मिलकर यवमाला बना रहे हों तो उस व्‍यक्‍ति को राजनीति में भी सफलता मिलती है।

धार्मिक ग्रंथों में शंख को पवित्र और शुभता का प्रतीक बताया गया है और समुद्रशास्‍त्र में भी इसे शुभ माना गया है। जिस व्‍यक्‍ति की अंगुली के प्रथम पोर पर शंख का चिह्न होता है वह बुद्धिमान और विद्वान बनता है। चार अंगुलियों में शंख का निशान सरकार और सरकारी क्षेत्र में प्रतिष्‍ठा दिलवाता है। पांच अंगुलियों के बीच ऐसा निशान विदेश यात्रा की ओर संकेत करता है। ये व्‍यक्‍ति विदेश जाकर खूब पैसा और सम्‍मान अर्जित करते हैं।

समुद्रशास्‍त्र में चक्र के चिह्न को भी बहुत शुभ और उत्तम फलदायी माना जाता है। जिस व्‍यक्‍ति दसों अंगुलियों के प्रथम पोर पर चक्र का निशान होता है तो उस व्‍यक्‍ति के चक्रवर्ती सम्राट बनने की संभावना रहती है। ऐसा व्‍यक्‍ति देश-विदेश में प्रसद्धि और सफल बनता है। जिनकी एक अंगुली में चक्र का निशान होता है वह बुद्धिमान होते हैं। दो अंगुली में चक्र का निशान वाले व्‍यक्‍ति दिखने में सुंदर और आकर्षत होते हैं। तीन चक्र वाला व्‍यक्‍ति सुखमय जीवन जीता है।

हथेली में अनामिका अंगुली की जड़ में सूर्य पर्वत होता है। इस स्‍थान से चलकर जो भी रेखा आती है उसे सूर्य रेखा कहा जाता है। सूर्य का संबंध राजनीति, सरकारी क्षेत्र, उच्‍च अधिकारी, पिता और मान-सम्‍मान से है। अगर सूर्य रेखा निर्दोष और साफ हो तो व्‍यक्‍ति सरकारी क्षेत्र में उच्‍च पद प्राप्‍त होता है। इस रेखा पर त्रिभुज या त्रिशूल का चिह्न बन रहा हो तो यह सूर्य रेखा के प्रभाव को प्रबल करता है।

समुद्रशास्‍त्र में सबसे अधिक जीवन रेखा का महत्‍व है। जीवन होगा तभी तो किसी और सुख को भोग पाएंगें। अगर जीवन रेखा साफ और निर्दोश है तो यह जीवन से कई दोषों को दूर कर सकती है। ऐसा व्‍यक्‍ति सुखी रहता है। जीवन रेखा के अंत में मछली का चिह्न बन रहा हो तो यह सोने पर सुहागा माना जाता है। जीवन रेखा के अंत में मछली का चिह्न बन रहा है तो यह व्‍यक्‍ति के स्‍वस्‍थ और दीर्घायु होने का संकेत है।

अगर आपकी हथेली में ऐसा कोई भी निशान बन रहा है तो आपकी किस्‍मत भी चमक सकती है और आपको भी खूब पैसा और तरक्‍की मिल सकती है।

Don't Miss! random posts ..