ENG | HINDI

ऐसे पहचाने चमड़े की जैकेट में असली और नकली का फर्क!

असली और नकली चमड़े की पहचान

चमड़े के जैकेट काफी फैशन में रहते हैं.

खासकर सर्दियों के मौसम में. लेकिन कई बार असली चमड़े की सही पहचान नहीं कर पाने की वजह से ठगे जाने की संभावना काफी बढ़ जाती है. इसलिए आवश्यक है कि हम असली चमड़े की जैकेट की पहचान करने का हुनर सीख लें.

इसलिए दोस्तों हम आपके लिए लेकर आए हैं बेहद ही कारगर और आवश्यक जानकारी, जिसके जरिये आप बहुत हीं आसानी से चमड़े की पहचान कर सकते हैं.

विशेषज्ञों का कहना है कि बनावट और गंध से असली और नकली चमड़े की पहचान आसानी सेकी जा सकती है.

असली और नकली चमड़े की पहचान

ऐसे करें चमड़े की जैकेट में असली और नकली चमड़े की पहचान

1.  चमड़े को पहचानने का सबसे आसान तरीका है कि उसे खींचकर या दबाकर देखें. अगर चमड़ा असली रहेगा तो उस में सिकुड़न और खिंचाव आ जाएगा. लेकिन अगर नकली है तो इस पर इसका कोई भी असर नहीं होगा.

2.  असली चमड़ा 10 साल से भी ज्यादा समय तक टिका रह सकता है. यह जल्दी खराब नहीं होता.

3.  जब कभी भी चमड़े की जैकेट खरीदने जाएं तो उसे अच्छे से छू कर और महसूस कर परख लें. जैकेट की सामग्री में थोड़ी बहुत खराबी असली चमड़े की पहचान होती है. असली चमड़े से कभी भी केमिकल या प्लास्टिक की दुर्गंध नहीं आती. लेकिन वहीं अगर नकली लेदर जैकेट रहेगा तो ऐसे गंध आते हैं.

4.  जैकेट को खींच कर देखने पर अगर उसमें ढेर सारे बारीक छेद नजर आए तो इसका साफ मतलब है कि वह जैकेट असली चमड़े का है. जबकि नकली चमड़े के जैकेट को खींचने पर किसी तरह का कोई छेद नजर नहीं आता.

5.  असली चमड़े के जैकेट छूने पर कोमल व मुलायम महसूस होता है. जबकि नकली चमड़े के जैकेट को छूने पर कठोर महसूस होता है.

6.  असली चमड़ा आसानी से पानी को अपनी ओर अवशोषित कर लेता है. जबकि नकली चमड़ा पानी को अवशोषित करने में सक्षम नहीं होता. और पानी उसकी सतह पर हीं नजर आता है.

7.  असली चमड़े की जैकेट को अगर आप मोड़ कर या खींचकर देखेंगे तो उसके रंग में थोड़ा बदलाव नजर आएगा. जबकि नकली चमड़ा को खींचने और मोड़ने पर वह कठोर हीं बना रहता है.

ये है असली और नकली चमड़े की पहचान  – तो दोस्तों ये कुछ आसान से उपाय हैं, जिसे आप फटाफट अपना कर असली और नकली चमड़े के जैकेट की पहचान कर सकते हैं.

Don't Miss! random posts ..