ENG | HINDI

ये 5 तरीके आपके जींस को हमेशा नया बनाये रखता है !

जींस की सही देखभाल

जींस ऐसा कपड़ा है जो आजकल हर कोई पहनना पसंद करता है.

स्टाइलिश लुक देने के साथ – साथ कंफर्टेबल भी होता है. जींस ऐसा कपड़ा है जिसे हर कोई दिन भर पहने रह सकता है. लेकिन अगर आपकी जींस साफ – सुथरी नहीं है,  या उसमें बबल्स आ गए हैं तो ये अच्छी नहीं दिखती.

इसलिए जरूरी है कि आप अपने जींस की सही देखभाल करें, ताकि वो हमेशा नया और खूबसूरत बना रहे.

फेडेड जींस काफी फैशन में है. लेकिन अगर जींस का रंग फैड होने पर धब्बे दिखने लगे, तो कपड़ा पुराना दिखने लगता है. इसलिए आज हम आपको बता रहे हैं कि किस तरह जींस की सही देखभाल करे ताकि आप अपने जींस को हमेशा नया बनाए रख सकते हैं.

जींस की सही देखभाल – 

1 – हैंड वाश तकनीक

हाथों से धोने से कपड़ा खराब नहीं होता. वह सिकुड़ता नहीं. इसलिए जहां तक हो सके अपने जींस को हाथों से ही धोएं. दोस्तों जींस जितनी रफ दिखती है दरअसल उतनी होती नहीं. इसलिए इसे अच्छी देखभाल की बहुत जरूरत होती है.

जींस को धोने के लिए एक बाल्टी में पानी लें. और उसमें जरूरत के हिसाब से डिटर्जेंट मिला लें. और अब आप अपनी जींस को इस में भिगो दें. थोड़ी देर बाद इसे हाथ से धोएं और 40 – 45 मिनट बाद निचोड़ लें. और 3-4 साफ पानी में धोकर निचोड़ लें. इससे जिंस हमेशा नई बनी रहती है. कपड़ा सिकुड़ता नहीं.

2 – जींस को फ्रीजर में रखें

जींस से आने वाली बदबू को दूर करने के लिए आप अपने जींस को फ्रिजर में रख सकते हैं. इससे जींस में उपस्थित हानिकारक पदार्थ और बैक्टीरिया नष्ट हो जाते हैं. फ्रिज में रखने के लिए जींस को अच्छी तरह तह बना लें. और एक प्लास्टिक बैग में रखकर चारों तरफ से सील कर दें. और फिर फ्रीजर में रख दें. ज्यादा तापमान पर रखने की प्रक्रिया को जींस को स्टरलाइजिंग करना कहा जाता है. क्योंकि इस प्रक्रिया से सभी बैक्टीरिया खत्म हो जाते हैं. और जींस फ्रेश रहता है.

3 – टैग चेक करें

आपके जींस पर जो टैग लगा होता है, वो बहुत हीं महत्वपूर्ण जानकारी वाला होता है. जो बताता है कि आपकी जींस में किस तरह के कपड़े का प्रयोग किया गया है. और इसे किस तरह से धोना सही रहेगा. अगर टैग पर प्री वॉश/प्री डिस्ट्रेस्ड है, तो इसका मतलब है कि वो जींस पहले भी उपयोग हो चुका है. और इसे पहले भी धोया गया है. ऐसा है तो जींस को ठंडे पानी में रखना सही रहेगा. ताकि ये सिकुड़े नहीं. अगर जींस पर सूखा कच्चा या सिंगल वाश का लेबल लगा है तो इसका मतलब है कि जींस को पहले कभी नहीं धोया गया है. और इसका रंग पूरी तरह सेट नहीं है. इस हालात में जींस पर लगे हुए दिशा निर्देशों का पालन करना सही रहेगा.

अगर जींस पर सन्फोरिज्ड का टैग लगा है, तो इसका मतलब है कि यह जींस इस प्रकार से बनी हुई है कि यह नहीं सिकुड़ेगी. अगर जींस पर अनसन्फोरिज्ड टैग/श्रिंक टू फिट है तो इसका मतलब है कि जींस बताए गए साइज से कुछ इंच बड़ी है. वह धोने के बाद सिकुड़ जाती है. ऐसी परिस्थिति में जींस को गर्म पानी में भिगोना चाहिए. इससे जिंस सिकुड़ जाएगी. और बताए गए साइज की हो जाएगी. अब आप इसे रेगुलर इस्तेमाल कर सकते हैं.

4 – ड्राई क्लीन

जींस को हमेशा ड्राई क्लीन करवाना उचित रहता है. क्योंकि इससे कीटाणु, धूल और दाग निकल जाते हैं. जींस के किनारों पर जो तेल जमा हो जाता है, वह ड्राइक्लीन से निकल जाता है. वैसे तो ड्राइक्लीन एक महंगा विकल्प होता है. लेकिन महीने में एक बार इसे कराया जा सकता है. इस से जींस हमेशा नई बनी रहती है.

5 – गर्मी से बचाएं

जींस को हमेशा गर्मी से बचाकर रखना चाहिए. इससे कपड़े पर प्रभाव पड़ता है. जिंस को हवा में हीं सुखाना चाहिए. सीधे सूरज की किरणों से बचाना हीं सही रहता है. हवा में सुखाने के लिए समय ज्यादा लगता है. लेकिन इस से आपका जिंस जल्दी खराब नहीं होगा. अपने डेनिम को हमेशा सॉफ्ट बनाए रखने के लिए आप फैब्रिक सॉफ्टनर्स का प्रयोग भी कर सकते हैं. और इससे आपका जींस लंबे समय तक फ्रेश बना रहेगा.

इस तरह से आप अपने जींस की सही देखभाल कर सकते है – येे कुछ ऐसी छोटी-छोटी लेकिन महत्वपूर्ण बातें हैं, जो आपके जींस को लंबे समय तक खूबसूरत और नया बनाए रखेगा.

Don't Miss! random posts ..