ENG | HINDI

कैसे बचाए टूटने से दिल अगर हो जाए इकतरफा प्यार

love-heartbreak

जब आप किसी को बहुत गहराई से प्यार करने लगते है और सीरियसली किसी के साथ रिलेशशिप को आगे बढ़ाना चाहते है और आपको पता चले कि सामने वाला आपके लिए कोई  फीलिंग नहीं रखता है तो आप हताश होने के बजाए इस चीज़ को पॉजीटिवली ले.

1.  प्यार का मतलब सिर्फ डेटिंग करना या फिर एक साथ वक्त बिताना नहीं होता है. जरुरी नहीं कि ये सब करने से ही प्यार हो जाता हैं. आप सामने वाले से प्यार करते है तो उनकी फिक्र भी आपको होनी चाहिए आप उनसे सचमुच प्यार करते है  तो हर जगह इस बारे में डिस्कस करने से बचे आखिर आपको उनकी रेप्यूटेशन का ख्याल रखना चाहिए. ये सोच लिजिए कि आपने अपनी तरफ से पूरी ईमानदारी से कोशिश की इज़हार भी किया अब सामने वाले ने इसे एक्सेप्ट नहीं किया तो इसमें आपकी गलती नहीं है और किसी को हम खुद को पसंद करने के लिए मजबूर नहीं कर सकते हैं.

2.  इकतरफा प्यार और रिलेशनशिप में फर्क करना सीखिए. इकतरफा प्यार को क्रश समझकर भूलने की कोशिश कीजिए. क्योंकि ये आपको डिप्रेशन और नकारात्मक विचारों से घेर सकता है. साथ ही ज्यादा सोचने से आपका कॉन्फीडेंस भी या खुद में विश्वास कम कर सकता है जिसका असर आपकी फ्यूचर रिलेशनशिप पर पड़ सकता हैं.

3.  क्योंकि प्यार इकतरफा है रिलेशनशिप नहीं है इसलिए इसलिए आपको  दोस्ती तोड़ने की जरुरत नहीं है.

4.  इसे एक लेसन की तरह लिजिए जिसमें आपको कम से कम ये तो पता चल जाता है कि आप भी रोमांटिक है और किसी से सीरियसली लव कर सकते हैं. आगे जाकर ये सीख बहुत काम आएगी और आप इस एक्सपिरिएंस से बहुत कुछ सीख सकते है कि अपने आस-पास रहने वालें लोगो की केयर कैसे की जाएं.

5.  ब्रेक-अप से बेहतर है सिंगल रहना, उन लोगो से पूछकर तो देखिए जिन्होंने ब्रेक-अप के दर्द को झेला है. बेहतर हुआ कि ऐसा प्यार रिलेशनशिप के अंजाम तक नहीं पूछा तब आप अपने इकतरफा प्यार के पूरे ना होने पर भी बेहतर महसूस करेंगे.

अगर आपको भी हो गया है किसी से इकतरफा प्यार और आप नहीं कर पा रहे है बर्दाश्त तो

आपके टूटे हुए दिल के घावों पर मरहम की तरह काम करेंगे हमारे ये 5 टिप्स .

Don't Miss! random posts ..