ENG | HINDI

हाईहील, टाइट जीन्स और बैक पॉकेट में पर्स… ये चीज़ें आपको बीमार कर सकती है !

हाईहील, टाइट जीन्स और बैक पॉकेट में पर्स

हाईहील, टाइट जीन्स और बैक पॉकेट में पर्स – युवाओं में फैशन का बहुत क्रेज़ होता है।

वह चाहते हैं कि बाजार में आने वाला हर नया ट्रेंड वे ट्राय करें। जो युवा कर भी रहा है। मगर फैशन के इन नये ट्रेंड के पीछे अक्सर युवा उनके साइड इफेक्ट को भूल जाते हैं। जो उनको शारीरिक रूप से अक्षम बना सकते है ।

जी हां, यह देखा गया है कि लड़कियों में हाइ हील्स, टाइट जीन्स व लड़कों (पुरुषों) में बैक पॉकेट में पर्स रखने की चलन काफी रहता है मगर फैशन के ये सिम्बल उनके शरीर पर कुप्रभाव डाल सकते हैं।

पर कैसे..?

तो फिर पढ़ते है कि कैसे हाईहील, टाइट जीन्स और बैक पॉकेट में पर्स शरीर को नुकसान पहुंचा सकते हैं।

हाईहील, टाइट जीन्स और बैक पॉकेट में पर्स –

हाइ हील्स (ऊंची एडी की सैंडील)

लड़कियों में ऊंची एडी की सैंडील का आकर्षण किसी से छुपा नहीं है। वह दुसरी लड़कियों से अलग लगने के लिए हाइ हील्स को पहनना पसंद करती है। मगर हाइ हील्स के शोक रखने वाली लड़कियां, उसके साइड इफेक्ट के बारे में चूक जाती हैं।

यह पाया गया है कि एक घण्डे तक हाइ हील्स पहनने के बाद अक्सर लड़कियों के पैरो में मोच, गठिया की परेशानी पैदा हो जाती है। यदि लड़कियां एक घण्डे से अधिक समय तक यह पहने फिर पैर में फैक्चर की समस्या भी हो सकती है। देखा जाए तो यह शरीर को बीमार करना ही है।

हाईहील, टाइट जीन्स और बैक पॉकेट में पर्स

टाइट जीन्स (स्किनी जीन्स)

हाइ हील्स के बाद फैशन का दुसरा सूचक टाइट जीन्स, जोकि महिलाओं की हेल्थ पर बुरा प्रभाव डाल रहा है। यह देखा गया है कि टाइट जीन्स पहन कर काम करने से महिलाओं के पैरों में हवा पास नहीं होती है जिससे पैरों में खुजली व दाद की समस्या पैदा हो जाती है। इसके साथ-ही-साथ पैरों में स्वेलिंग की समस्या भी होती है।

हाल ही में डॉक्टरों के पास टाइट जीन्स से पैदा हुयी बीमारी का एक केस आया। जो एक महिला से जुड़ा था। डॉक्टरों के मुताबिक उस महिला को कंपार्टमेंटल सिंड्रोम हुआ था। जो पैरों के निचले हिस्से पर दबाव होने के बाद बना था। इसके कारण महिला की मांसपेशियों को नुकसान भी पहुंचा था।

हाईहील, टाइट जीन्स और बैक पॉकेट में पर्स

बैक पॉकेट में पर्स

आमतौर पर बैक पॉकेट में पर्स कम ही देखा जाता है। मगर अधिकांश पुरुष अब भी यह फैशन यूज करते हैं हालांकि ऐसा करना उनके बॉडी को नुकसान पहुंचा सकता है। वह इसलिए क्योंकि बैक पॉकेट में पर्स रखने से हिप्स की हड्डी फैक्चर हो सकती है

इसके अलावा, बैक में हैवी पर्स रखने से बैक में भार पड़ सकता है जिससे रीढ़ की हड्डी पर दबाव होने से हड्डी टूट भी सकती है। यह भी देखा गया है कि लड़कों की हीप्स की शेप भी बदल जाती है।

हाईहील, टाइट जीन्स और बैक पॉकेट में पर्स

इस तरह हाईहील, टाइट जीन्स और बैक पॉकेट में पर्स आपके बॉडी को ऐसे नुकसान पहुंचा सकते हैं। इसलिए फैशन को ब्लांड फॉलो न कर, अपनी सेहत के बारे में भी ध्यान दें।

Don't Miss! random posts ..