ENG | HINDI

ये 7 डॉक्टर बिना कोई फीस लिए आपको हर बिमारी से बचाकर स्वस्थ रख सकते है!

डॉक्टर

आज हमारा खान पान और रहन सहन अच्छा होते हुए भी हम कई कई बिमारी का शिकार हो जाते हैं.

जैसे आहार ही जीवन है, वैसे ही हमारी दिनचर्या सबसे बड़ा डॉक्टर का काम करता है, जिसके कारण हम न केवल बिमारी से बचते हैं बल्कि स्वस्थ जीवन जीते है.

क्या आप जानना चाहते हैं कौन है ये डॉक्टर, जो बिना फ़ीस के बिमारी से बचाते हैं.

तो आइये जानते हैं इन डॉक्टर के बारे में

पर्याप्त नींद

सबसे पहला डॉक्टर है पर्याप्त नींद लेना. हमे रात में कम से कम 7-8 घंटे की नींद लेनी ही चाहिए. जैसे मशीन को भी काम के बाद थोडा आराम दिया जाता है, वैसे ही हमारे शरीर को भी दिन भर काम करने के बाद कम से कम 7-8 घंटे के आराम की जरुरत होती है. वास्तव में जब हम नींद लेते हैं तो हमारे शरीर के सारे अंग अपने आपको और अपना कार्य को सही करते हैं जो हमको तनाव मुक्त कर एक नई  ऊर्जा प्रदान करते हैं. जिससे हम दुसरे दिन की शुरुवात अच्छे से कर सके.

सुबह सुबह सूरज की किरण

दूसरा डॉक्टर है सुबह के समय सूरज की किरण! सुबह सुबह  की सूरज की किरणों में विटामिन-डी होता है, जो हमारे शरीर के लिए लाभदायक होती और हमारे शरीर में करणों के माध्यम से प्रवेश करता है. इससे हड्डियाँ मजबूत बनती है. सूरज की  किरणों का हमारी  बाहरी त्वचा पर कोई  प्रभाव नहीं होता. यह सीधे हमारे  शरीर के आंतरिक  अंगों में पहुँचती है और हमारे शरीर को स्वस्थ रखती है. सुबह 6 से 9 बजे तक सूरज की किरण लेना चाहिए.

अमेरिकन  डॉक्टर हानेश के अनुसार सूरज  की किरण का प्रयोग  शरीर में थकान, स्नायविक दुर्बलता, कमजोरी, चर्मरोग, लौहतत्व की कमी, मांसपेशियों की रुग्णता, तपेदिक और कैंसर के इलाज में किया जाता है.

पर्याप्त मात्रा में पानी का सेवन

तीसरे डॉक्टर का नाम है पानी. जब हम सही मात्रा में पानी पीते हैं, तो शरीर का हर भाग पानी से साफ़ हो जाता है, और रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है. शरीर स्वस्थ बना रहता है. शरीर का तापमान नियंत्रित रहता है. सुबह खाली पेट पानी पीने से मेटाबॉलिज्म बढता है और चर्बी भी कम होती है. बीमारी, तनाव, थकान, कमजोरी नही आती. कोशिकाएं क्रियाशील बनी रहती है. दिमाग और शरीर का हर भाग स्वस्थ रहता है.

प्रतिदिन योग और व्यायाम

चौथा डॉक्टर प्रतिदिन योग और व्यायाम होता है. इससे हमारे शरीर बाहरी और आंतरिक रूप से स्वस्थ बना रहता है. हमारे शरीर के हर भाग में रक्त का सही संचार होता है और ऑक्सीजन शरीर की गहराईयों तक पहुंचता है. शरीर की बिमारी ख़त्म होती है और उम्र लम्बी हो जाती है.

शाकाहारी भोजन

पांचवा डॉक्टर शाकाहारी भोजन होता है. जिसमें हमारे शरीर से जुड़े सारे प्रोटीन, विटामिन, और पोषक तत्व मिलते है जो  शरीर के हर भाग को सही ऊर्जा और पौष्टिक तत्व प्रदान करते है. मस्तिष्क और ह्रदय किडनी आंत शरीर का हर भाग में संतुलन बना रहता है हर भाग क्रियाशील होता है. शरीर को रोग मुक्त बनता है. इसके नुकसान नहीं होते. 

आत्मविश्वास

छठा डॉक्टर  हमारा खुद पर विशवास होता है. खुद पर विश्वास हमे हर काम में सक्षम बनता है. हमे हर परिस्थित में एक सामान रखता है. किसी चिंता, परेशानी और  समस्या में कमजोर नहीं होने देता. जब हम दिमाग से मजबूत होते हैं, तब हर बिमारी हर परिस्थिति और हर समस्या को आसानी से सुलझाया जा सकता है, जिससे शरीर और दिमाग हमेशा स्वस्थ और दृढ बना रहता है.

अच्छे मित्र संगती

सातवा डॉक्टर  अच्छे मित्र की संगती होती है. एक अच्छा मित्र एक अच्छे माता पिता और गुरु के समान होता है. जिसमे माँ की तरह चिंता पिता की तरह सही सलाह और गुरु की तरह सही दिशा दिखने का गुण होता है.  जो हर परिस्थित में हमारे साथ होता है. हमे हर मुसीबत से बचाने की कोशिश करता है. अच्छे काम में मदद करता है और समय समय पर सही जानकारी और ज्ञान देता है.

आपकी ज़िन्दगी में ये सारी  चीजे  मुफ्त में बिना फ़ीस के मिलती है और इनके  साथ होने से आप  कभी किसी बिमारी का शिकार नहीं होंगे, आपका जीवन मधुर स्वस्थ और अच्छा रहेगा. आपका जीवन  रोग मुक्त, सुखद, और ख़ुशी ख़ुशी बीतेगा .

 

Don't Miss! random posts ..