ENG | HINDI

राशियों के अनुसार जानिए-किस ऋतु में रहेंगा कैसा स्वास्थ्य-

राशियों के अनुसार स्वास्थ्य

आज हम राशियों के अनुसार स्वास्थ्य की बात करेंगे !

राशियों के अनुसार स्वास्थ्य –

मेष-

इस राशि के जातकों को वसंत की ऋतु में लाभदायक होती हैं। इस काल में इनको स्वास्थ्य के प्रति ज्यादा सचेत नही होना पड़ता। इस ऋतु में सूर्य इनकी राशि में होने से उच्च का होता हैं तथा पूरे प्रभाव में होता है। शेष ऋतुओं में नियम का पालन करें एवं लाल वस्त्र पहनें।

वृषभ-

ग्रीष्म ऋतु में सूर्य इनकी राशि में भ्रमण करता हैं। यह वह समय हैं जब सूर्य प्रभावशाली होता हैं। अत: सभी अनूकुल परिणाम इनको प्राप्त होते हैं। स्वास्थ्य संबधी शिकायत नही होती। शेष ऋतुओं में नियम का पालन करें एवं सफेद वस्त्र पहनें।

मिथुन-

यह राशि भी ग्रीष्म में स्वास्थ्यर्जन करती हैं। बुध की स्वामित्व वाली यह राशि अपने बुद्धि कौशल से इस काल में सब कार्य बनाने में माहिर होती हैं। यह ऋतु इन्हें अनुकूल परिणाम देती हैं। शेष ऋतुओं में नियम का पालन करें एवं अधिकतम हरे वस्त्रों का उपयोग करें।

कर्क-

यह राशि वर्षा ऋतु मे दौरान अपने पूरे प्रभाव में होती हैं। सूर्य का इस राशि में भ्रमण होता हैं एवं सूर्य अपने मित्र की इस राशि को आरोग्यता प्रदान करता हैं। आत्मश्विास में वृद्धि करता हैं। शेष ऋतुओं में नियम का पालन करें एवं सफेद वस्त्र पहनें।

सिंह-

वर्षा ऋतु में ही सूर्य अपनी स्वयं की राशि में होता हैं। जब वातावरण अधिकतर रोगाणुओं का प्रभाव होता हैं एवं सूर्य की रश्मियां मेघों के कारण धरती तक नही पहुचं पाती तब वह अपने स्वामित्व वाली राशि मे जाता हैं। यह परोपकार की भावना हैं। शेष ऋतुओं में नियम का पालन करें एवं लाल वस्त्र पहनें।

कन्या-

शरद ऋतु में सूर्य कन्या राशि वालों को स्वास्थ्य लाभ देता हैं। इस राशि के जातक इस ऋतु में कोई विशेष लाभ को प्राप्त करतें हैं। शेष ऋतुओं में नियम का पालन करें एवं हरे वस्त्र पहनें।

तुला-

इस राशि में सूर्य नीच का होता हैं। शरद ऋतु में मामुली से स्वास्थ्य में गिरावट आती हैं किंतु यह समय अन्य सभी ऋतुओं से अच्छा होता हैं। शेष ऋतुओं में नियम का पालन करें एवं सफेद वस्त्र पहनें।

वृश्चिक-

हेमंत ऋतु में इस राशि वालों को लाभ की स्थिति बनती हैं। स्वास्थ्य लाभ के साथ आकस्मिक धन की प्राप्ति होती हैं। यह ऋतु कोई शुभ समाचार दिलाती हैं। शेष ऋतुओं में नियम का पालन करें एवं लाल वस्त्र पहनें।

धनु-

यह राशि भी हेमंत ऋतु में उत्तम स्थिति में रहती हैं। वैवाहिक संबधों में सफलता मिलती हैं। कार्य सभी समय पर पूर्ण होते हैं। कारोबार का विस्तार होता हैं। शेष ऋतुओं में नियम का पालन करें एवं पीलें वस्त्र पहनें।

मकर-

यह राशि शिशिर ऋतु मे अपने पूरे प्रभाव में होती हैं। मन में आंनद होता हैं एवं आर्थीक लाभ अर्जन करते हैं। विपरित लिंग का आकर्षण बनता हैं। शेष ऋतुओं में नियम का पालन करें एवं काले वस्त्र पहनें।

कुंभ-

इस राशि का प्रभाव भी शिशिर ऋतु में बढ़ा हुआ होता हैं। इसमे इनको प्रमोशन, पद की प्राप्ति एवं नयी जिम्मेदारी की प्राप्ति होती हैं। शेष ऋतुओं में नियम का पालन करें एवं नीले वस्त्र पहनें।

मीन-

इस राशि के जातकों का प्रभाव वसंत ऋतु में विशेष रहता हैं। यह समय इनके आकर्षण में वृद्धि का रहता हैं। धन के साथ ही यह सफलता भी अर्जीत करते हैं।

ये है राशियों के अनुसार स्वास्थ्य – शेष ऋतुओं में नियम का पालन करें एवं पीलें वस्त्र पहनें।

Don't Miss! random posts ..