ENG | HINDI

इसलिए इस शख्स ने अखबार की एक हज़ार कॉपियाँ खरीद डाली !

अखबार की एक हजार प्रतियाँ

सोचो अगर आप को अखबार खरीदने हो तो कितने अखबार खरीदेंगे?

दो या ज्यादा से ज्यादा आप अखबार पढ़ने के बहुत शौकीन है तो 5 या 7अखबार.

लेकिन एक शख्स ने एक अखबार की एक हजार प्रतियाँ खरीद लीं. इसलिए नहीं की उसको अखबार बेचना था या लोगों के बीच बांटना था.

बल्कि उसने हाकर से अखबार की एक हजार प्रतियाँ सिर्फ इसलिए खरीद लिए ताकि उसकी कालोनी के लोगों को कहीं यह पता न चल जाए कि उसे पुलिस ने पकड़ा था.

दरअसल, यह मामला अमेरिका के न्यूयार्क शहर का है. पुलिस ने 20 दिसंबर को जोसेफ टैलबॉट नाम के शख्स को शराब पीकर गाड़ी चलाने के आरोप में पकड़ा था.

अमेरिका में यदि आप ने शराब पी रखी है और आप गाड़ी चलाते हुए पुलिस की गिरफ्त में आ गए तो फिर खैर नहीं. आपको मालूम होगा कि अमेरिका के राष्ट्रपति बुश की बेटी का चालान पुलिस ने इसलिए काट दिया था कि वह शराब के नशे में गाड़ी चला रही थी.

बहराल, पुलिस ने जब इस शख्स को रोका और उस पर करवाई के करते हुए उसे जांच के लिए अंगुलियों के निशान देने को कहा तो उसने मना कर दिया.

फिर पुलिस ने सबूत के तौर पर उसकी फोटों खींचवाने के लिए कहा तो उसने फोटो खिचवाने से भी इंकार कर दिया.

पुलिस ने उससे पूछा कि आखिर फोटों खिचवाने में उसको परेशानी क्या है?

तो इस पर उसका कहना था कि वह फोटो इसलिए नहीं देना चाहता ताकि अखबारों में उसकी फोटो न छप जाए.

लेकिन इस बीच टाइम्स ऑफ वाइने नाम के अखबार को इसकी भनक लग गई. अखबार ने जेल के रिकार्ड से फोटो निकलाकर उसका फोटो छाप दिया.

लेकिन जब जोसेफ को पता चला कि टाइम्स ऑफ वाइने नाम के अखबार ने उसकी फोटो छाप दी है तो उसने सुबह होते ही मोहल्ले के हाकर से अखबार की एक हजार प्रतियाँ खरीद लीं ताकि उसके आसपास रहने वाले लोगों को कहीं यह पता न चल जाए कि जोसेफ टैलबॉट को पुलिस ने पकड़ा था.

क्योंकि यदि ऐसा होता तो उसकी मोहल्ले में बहुत बेइज्जती होती.

Don't Miss! random posts ..