ENG | HINDI

100 सुरंगों में छुपा है खजाना, जो गया खोजने, वो वापस नहीं आ पाया

Kuldhara Village Rajasthan

जैसलमेर का खाबा और कुलधरा, भारत का ऐसे गाँव हैं जो सुरंगों के ऊपर बसे हुए हैं.

कहते हैं कि इन 100 सुरंगों में हमारे पूर्वजों का धन छुपा हुआ है. यह शहर 100 सुरंगों का एक शहर है. ऐसा मानना है कि इन गुफानुमा सुरंगों में आज तक जो भी गया है वह वापस नहीं आया है. ये उत्तर में अफगानिस्तान तक जाती हैं और दक्षिण में हैदराबाद तक.

इन सुरंगों के पीछे एक कहानी छुपी हुई है जिसको जानना आपके लिए बेहद जरूरी है. यह कहानी जुड़ी हुई है ब्राह्मणों की कहानी से. ऐसे ब्राह्मण जो अब अपने गावों को छोड़कर जा चुके हैं और इनके 84 गाँव खंडहरों में तब्दील हो चुके हैं. इन्हीं 100 गुफाओं ने एक समय में इनकी काफी मदद की थी.

कौन थे ब्राह्मण, जिनके थे ये 84 गाँव

कुलधरा, जैसलमेर से लगभग 18 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है. कहते हैं कि पालीवाल समुदाय के इस इलाक़े में 84 गांव थे और यह उनमें से एक था. मेहनती और रईस पालीवाल ब्राम्‍हणों की कुलधरा शाखा ने सन 1291 में तकरीबन छह सौ घरों वाले इस गांव को बसाया था. ये गाँव इतने वैज्ञानिक तरीकों से बसाए गये थे कि यहाँ इतनी गर्मी में भी, इनके घर ठन्डे ही रहते थे. इन लोगों को हमारे वेद और शास्त्रों का भरपूर ज्ञान था. इसी ज्ञान से इन्होनें अपने लिए इतना कुछ बना लिया था. जैसलमेर में सबसे ज्यादा लगान यही लोग देते थे. वास्तुशास्त्र का इनकों पूरा ज्ञान था.

Kuldhara Rajasthan

Kuldhara Rajasthan

1 2 3 4

Don't Miss! random posts ..