ENG | HINDI

इस वजह से रानी मुखर्जी और गोविंदा की प्रेम कहानी ने बीच राह में ही दम तोड़ दिया !

गोविंदा और रानी मुखर्जी

इस तरह से हुआ इस प्रेम कहानी का अंत

भले ही गोविंदा अपनी पत्नी के सामने झुक गए लेकिन बावजूद इसके गोविंदा और रानी मुखर्जी ठिकाने बदलकर एक-दूसरे से मिलने लगे. लेकिन इस बार जब इसकी भनक गोविंदा की पत्नी को लगी तब उन्होंने सीधे रानी को फोन किया और उन्हें खूब खरी-खोटी सुनाई.

जिसके बाद रानी ने गोविंदा पर आखिर और अहम फैसला लेने का दबाव डाला. लेकिन गोविंदा ने अपने परिवार को चुना और रानी के साथ अपनी प्रेम कहानी को खत्म करने का फैसला कर लिया.

उधर रानी ने भी इस फैसले को नियति मानते हुए गोविंदा से अपने रास्ते अलग कर लिए. इस तरह से गोविंदा और रानी मुखर्जी के बीच चार सालों तक चली इस प्रेम कहानी ने दम तोड़ दिया.

govinda-rani-mukherjee

गौरतलब है कि गोविंदा के लिए सुनीता को छोड़ पाना इतना आसान नहीं था क्योंकि उनकी सारी प्रॉपर्टी पत्नी सुनीता के नाम थी. वहीं रानी को गोविंदा का शादीशुदा होना और दो बच्चों का पिता होना खटक रहा था. इसलिए दोनों का रिश्ता मंजिल तक पहुंचने से पहले ही हमेशा-हमेशा के लिए खत्म हो गया.

1 2 3 4

Don't Miss! random posts ..