ENG | HINDI

एक ऐसा देश जहाँ की लड़कियां अपनी पढ़ाई के लिए अपना अंडर वियर बेच रही हैं

दुनियाभर में महंगाई अपने चरम पर है. हमें लगता है कि हमारा देश ही सबसे गरीब है, लेकिन अमीर देशों की हालत भी इतनी बिगड़ी हुई है की आप समझ नहीं पाएंगे. अमीर देशों की लड़कियों को अपने खर्चे के लिए अपना बहुत कुछ बेचा पड़ रहा है. उनकी रोज़ मर्रा की चीज़ें जुटाने के लिए उन्हें अपना सामन बेचना पड़ रहा है. सुनकर आपको हैरानी हो रही होगी, लेकिन ये सच है.

लकड़ियों को पढ़ाने के लिए माँ बाप के पास पैसे नहीं हैं. वो उन्हें घर में खाना तो खिला देते हैं लेकिन उनके भविष्य के लिए कुछ नहीं कर रहे. ऐसे में लड़कियां अपना खर्च खुद ही जुटाने की कोशिश में लगी हैं. ये बात है एन अग्रेज कंट्री की. जी हाँ, एक सर्वे में ये बात सामने आई है कि ब्रिटिश स्टूडेंट अपनी पढ़ाई के लिए अपना अंडर गारमेंट्स बेच रही हैं.

सर्वे में ये बात सामने आई अहि कि ऐसी एक वेबसाइट है जो इन स्टूडेंट्स की मदद करती है. यहाँ पर आप कुछ पैसों में सब्सक्रिप्शन ले सकते हैं और फिर उसके बाद अपना सब कुछ बेच सकते हैं. हैरानी की बात तो ये है की लोग खरीदते भी हैं. लड़कियों की अंडर गारमेंट सके लिए लोग मोटी रकम देते हैं.

अंडर गारमेंट्स के अलावा लड़कियां अपना विडियो भी बनाकर बेच रही हैं. ये छोटे छोटे क्लिपिंग होते हैं. इसमें वो बेहद सेक्सी अंदाज़ में होती हैं. इन विडियो को खरीदने वाले मोटी रकम देते हैं. ये लड़कियां अपनी पढ़ाई के लिए ये करती हैं. इतनी कम उम्र में वो और कुछ करने में सफल नहीं होती इसलिए ऐसा करती हैं.

हर लड़की हफ्ते में अपना एक से २ सामान बेचती है. वो इन सामान को बेचकर महीने के १०० पौंड कम लेती है. बड़ी बात ये है कि इतना वो कुछ और करके नहीं कम सकतीं. विदेश में ये सारी बातें बड़ी ही आसानी से लोग पचा लेते हैं, लेकिन हमारे देश में ऐसा करना तो क्या सोचना भी पाप है. लड़कियां इस तरह की बातें नहीं कर सकतीं. हमारे यहाँ तो पढाई को पूजा समझा जाता है. ऐसे में पूजा के लिए इस तरह से पैसे जुटाना किसी को भी सही नहीं लगता. यहां पर लड़कियों के मां बाप उन्हें महंगा फोन और इंटरनेट देने में डरते हैं. उन्हें ऐसा लगता है कि उनकी बेटियां बिगड़ जाएंगी, लेकिन विदेश में लड़कियां इसी इन्टरनेट का फायदा उठाकर कितना कुछ कर रही हैं.

लड़कियों को अपना खर्चा खुद ही उठाना चाहिए, लेकिन हमारे देश में ऐसा नहीं होता है. लड़कियां या तो पढ़ाई छोड़ देंगी या फिर बेचारी इतने एहसान में पढ़ाई करती हैं जैसे माँ बाप उन्हें जीवन की सबसे अनमोल चीज़ अपने खाते से दे रहे हों. बहुत सी लड़कियां टूशन पढ़ाकर ये काम करती हैं. लेकिन इस तरह का बोल्ड कदम उठाना हमारे यहाँ की लड़कियों के बस की बात नहीं. वो ऐसा सपने में भी नहीं कर सकतीं.

लड़कियों को थोड़ा तो बदलना ही चाहिए. उन्हें अपने पैरों पर खड़ा होना चाहिए. दुनिया में लोग क्या सोचेंगे उनके बारे में ऐसा उन्हें नहीं सोचना चाहिए. बस, जो दिल में आए कर लेना चाहिए.

 

Don't Miss! random posts ..