ENG | HINDI

अब पाकिस्तान में चुल्हें पर हो रहे हैं तलाक !

गैस की किल्लत

भारत में इन दिनों जहां नोटों की कमी हो रही है वहीं पड़ोसी पाकिस्तान में रसोई गैस की किल्लत हो गई है.

पाकिस्तान में रसोई गैस की कमी के कारण हालात इतने खराब हो गए हैं इसके चलते वहां पति पत्नियों के बीच नौबत तलाक पर आ गई है.

दरअसल, पाकिस्तान में रसोई गैस की भारी किल्लत है. जिस कारण कई शहरों में काफी दिनों से लोगों के घरों में गैस सप्लाई बहुत कम हो रही है.

गैस की किल्लत

गैस पाइपलाइन में प्रेशर कम होने के कारण लोगों के घरों में चूल्हे सही से नहीं जल पा रहे हैं.

इस कारण पत्नियां पतियों और बच्चों को समय पर खाना नहीं दे पा रही हैं. खाने को लेकर पहले पति-पत्नी में झगड़ा होता है और फिर गुस्से में बात इतनी बढ़ जाती है कि वे एक-दूसरे को तलाक बोल देते हैं.

बताया जाता है कि अकेले लाहौर शहर के फैमिली कोर्ट में एक दिन में 100 से ज्यादा तलाक के मामले आ रहे हैं. हालांकि पिछले एक दशक में पाकिस्तान में तलाक के मामले काफी बढ़ गए हैं. सिर्फ मेट्रोपॉलिटन शहरों में पिछले एक दशक में करीब तीन लाख तलाक के मामले दर्ज हुए हैं.

लेकिन गैस की कमी ओर उससे जुड़ी वजहों को लेकर पाकिस्तान में हाल के दिनों में जिस प्रकार परिवारों के बीच झगड़ों के मामले मीडिया में आए हैं, उसने पाकिस्तान की राजनीति में भी भूचाल आ गया है.

पाक की संसद में इसे लेकर बहस हो रही है.

जमीयत-उलेमा-इस्लाम-फजल की नेता और सांसद नईमा किश्वर खान ने संसद में बहस के दौरान कहा कि गैस की किल्लत से लोगों की रसोई में खाना नहीं बन पा रहा है. रिश्ते टूट रहे हैं. परिवार बर्बाद हो रहे हैं. सरकार को यह समस्या जल्द दूर करनी चाहिए.

जबकि सत्तारूढ़ पार्टी पीएमएल-एन की नेता ताहिरा औरंगजेब ने कहा, रसोई में गैस की कमी से लोगों के रिश्ते जल रहे हैं. बीवियां बच्चों और शौहर को वक्त पर खाना नहीं दे पा रही हैं. शौहर ड्युटी से लौटते हैं तो खाना नहीं मिलने पर बीवियों से तू-तू, मैं-मैं करते हैं. खाने को लेकर वे नाराजगी में बीवियों को तलाक भी बोल रहे हैं.

इसका बच्चों पर बुरा असर पड़ रहा है. बीते कुछ दिनों में दर्ज हुए तलाक के ज्यादातर मामले गैस की किल्लत से जुड़े हैं.

Don't Miss! random posts ..