ENG | HINDI

यहां 70 किलो सोने से सजाए गए हैं गणपति बप्पा

सोने से सजाये गणपति

सोने से सजाये गणपति – मुंबई में इन दिनों गणेशोत्व की धूम हैं. हर गली कूचे और घर में गणपति की अराधना हो रही हैं.

कई सार्वजनिक गणेश मंडलों ने तो खास तरह से बप्पा को सजाया है, सोने से सजाये गणपति. मोदक, फूल और सोने-चांदी से भक्तों ने बप्पा को सजा दिया है. मुंबई में एक ऐसा ही पंडाल लोगों के आकर्षण का केंद्र बना हुआ जहां बप्पा को 70 किलो सोने से सजाया गया है.

सोने से सजाये गणपति –

यह पंडाल है मुंबई के सायन इलाके में. यहां गणेश जी को 70 किलो सोने से सजाया गया है. इसकी वजह से यहां सुरक्षा के खास इंतज़ाम भी किए गए हैं. सोने से लदे गणपति के दर्शनों के लिए भक्तों की भारी भीड़ जुट रही है. सायन पूर्व के जीएसबी सेवा मंडल के इस गणपति की सजावट में 70 किलो 23-कैरट सोना लगा है. अब जब गणपति इतने सोने से लदे होंगे तो इनकी सुरक्षा भी तो खास होगी न, तो इसलिए इस पंडाल की सुरक्षा में ड्रोन लगाए गए हैं जो पंडाल के कोने-कोने पर नजर रख रहे हैं.

पंडाल के ठीक बाहर ग्वालियर के सन टेंपल का रेप्लिका लगाया गया है जो लोगों का पंडाल में स्वागत करता है.

उधर, लोउर परेल स्थित वेस्टर्न रेलवे वर्कशॉप में बेहद अनोखे तरीके से मूर्ति को बनाया गया है. यहां मूर्ति बनाने के लिए बेकार सामान का इस्तेमाल किया गया है. वहीं, सबसे मशहूर पंडालों में से एक ‘ मुंबई चा राजा’ इस बार और भी खास रूप में लोगों के सामने है. मुंबई के लालबाग च राजा, नागपुर के टेकड़ी गणेश मंदिर और पुणे के दडगूशेठ हलवाई गणपति मंदिर में गणेश चतुर्थी का जश्न शानदार रहता है.

बड़ी संख्या में भक्त मंदिरों में बप्पा के दर्शन के लिए आते हैं.

गणेशोत्सव के दौरान मुंबई ही नहीं महाराष्ट्र के बाकी इलाके भी रोशनी और संगीत में डूबे रहते हैं और इस प्रशासन भी सुरक्षा को लेकर सतर्क रहता है. महाराष्ट्र में 50,000 से भी अधिक पुलिस अधिकारियों को सुरक्षा के लिए तैनात किया गया है.

सोने से सजाये गणपति – गणेशोत्सव का आज दूसरा दिन है और जो लोग डेढ़ दिन की गणपति रखते हैं वो शाम को बप्पा को विदाई देंगे. बाकी बड़े मंडल में 11वें दिन यानी 23 सितंबर को बप्पा को विदाई दी जाएगी.

Don't Miss! random posts ..