ENG | HINDI

पूर्व रेल मंत्री सुरेश प्रभु की वो दिलचस्प बातें, जो आप नहीं जानते होंगे!

पूर्व रेल मंत्री सुरेश प्रभु

पूर्व रेल मंत्री सुरेश प्रभु – अभी हाल ही में कुछ दिनों पहले देश में कुछ बड़े रेल हादसें हुए है.

इन हादसों की वजह जो भी रही हो लेकिन रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने नैतिकता के आधार पर जिम्मेदारी स्वीकार करते हुए इस्तीफा दे चुके है. कभी ट्विट के जरिये रेल में लोगों के लिए सुविधा और मदद मुहैया करवाने वाले सुरेश प्रभु एनडीए सरकार के पहले मंत्री बने जिन्होंने इस्तीफा दिया है. हालाँकि आज हम सुरेश प्रभु के कार्यकाल को लेकर कोई रिपोर्ट कार्ड पेश करने नहीं जा रहे है बल्कि आज हम उनसे जुड़ी कुछ दिलचस्प बातें बताने जा रहे है जिनके बारे में आप बिलकुल नही जानते होंगे.

पूर्व रेल मंत्री सुरेश प्रभु के बारे में –

– आज जहाँ लोगों में पढ़ाई से मोह भंग हो रहा है वहीं पूर्व रेल मंत्री सुरेश प्रभु इस उम्र में भी इकोनॉमिक्स और क्लाइमेट चेंज जैसे विषयों पर जर्मनी और मुंबई से दो पीएचडी कर रहे है.

-पूर्व रेल मंत्री सुरेश प्रभु पढ़ाई में ब्रिलियंट स्टूडेंट हुआ करते थे, कभी चार्टर्ड एकाउंटेंसी के एग्जाम में उनकी ऑल इंडिया में 11 वीं रैंक आई थी.

-वो सुरेश प्रभु ही थे जो 2003 इलेक्ट्रिसिटी एक्ट लाये थे, जिस वजह से राज्य सरकार बिजली की बसूली ढंग से करने लगी.

-1996 में बाल ठाकरे उनसे इम्प्रेस होकर उन्हें शिवसेना में लेकर आये थे, इससे पहले वे सारस्वत को-ऑपरेटिव बैंक के चेयरमैन थे.

-सुरेश प्रभु अब तक 80 देशों की यात्रा कर चुके है.

-वे बाजपेयी सरकार में कई महत्वपूर्ण विभाग में मंत्री रह चुके है जैसे इंडस्ट्री, इनवायरमेंट, केमिकल, पॉवर, और हैवी इंडस्ट्री.

-सुरेश प्रभु की पत्नी उमा प्रभु एक पत्रकार है और वे जी मीडिया से जुडी हुई है.

-ऐसा कहा जाता है कि ट्विट के जरिये ट्रेनों में मदद पहुंचाने का आईडिया प्रभु के बेटे अमेय प्रभु का था. ये आईडिया काफी पोप्युलर और मददगार भी साबित हुआ है.

ये थी पूर्व रेल मंत्री सुरेश प्रभु से जुडी कुछ दिलचस्प बातें. फिलहाल सुरेश प्रभु कॉमर्स और इंडस्ट्री मंत्रालय में मंत्री है. कुछ ऐसी ही राजनीति और इतिहास से जुड़ी दिलचस्प और रोचक बातें जानने के लिए पढ़ते रहिये हमारे आर्टिकल.

Don't Miss! random posts ..