ENG | HINDI

सच्ची घटना ! बलात्कारी बाप जेल की सलाखों के पीछे ! 10 साल की बच्ची की जाबांज कहानी !

बलात्कारी बाप

पिता को ईश्वर का तीसरा अवतार माना जाता है.

लेकीन घटित कुछ घटनाएं पिता के घिनौने चेहरो का पर्दाफ़ाश करती है. ऐसी ही एक सत्य घटना से आज हम आपको रूबरू करा रहे है.

कहानी देश के आर्थिक राजधानी मुंबई की है.

मुंबई के मानखुर्द इलाके से जुडी एकतानगर बस्ती इस वक्त सक्ते में है.

यहाँ रहने वाले सभी निवासियों को अपने छोटे बच्चियों की चिंता सता रही है.

उन्हें चिंता है कि कही उनके बच्चियों की आबरू लुट ना जाए, क्योकि इस बस्ती में रहने वाला एक ज़ालिम बाप लगातार तीन सालो से अपने ही बच्ची का बलात्कार कर रहा था.

10 साल की सलमा (बदला हुआ नाम) अपने दो छोटे भाइयों के साथ अपने मामा के घर रह रही है. पुरे एक महीने हो चुके है उसे अस्पताल से घर आए, फिर भी वो बच्ची सदमे है.

बताने की हिम्मत नहीं हो रही लेकिन आपको चेताना भी ज़रूरी है. सलमा का 45 साल का पिता सलीम मोहम्मद पिछले तीन सालो से अपने 10 साल की बच्ची सलमा से रोजाना ज़बरन बलात्कार करता था.

पहले तो बच्ची ने किसी को भी इस घटना के बारे में कुछ नहीं बताया, सिर्फ अपने बाप का जुल्म सहती रही, लेकिन एक दिन उसने वो देखा, जिसे देख वो खामोश की खामोश रह गई.

सलमा ने देखा कि उसकी गैर मौजूदगी में उसका निर्दयी बलात्कारी बाप उसके 6 साल के भाई नवाब के साथ अश्लील हरकत कर रहा था. बच्चा चिल्लाता रहा, लेकिन बाप ने उस बच्चे की चीखे अनसुनी की. वो सिर्फ अपनी हवस को अंजाम देने में ही लगा रहा.

उस दर्दनाक तस्वीर को देखने के बाद सलमा ने वो किया जो उसे बहोत पहले ही कर लेना चाहिए था.

सलमा तुरंत दौडती हुई मानखुर्द पुलिस स्टेशन जा पहुची और वहा मौजूद पुलिस अधिकारी को अपने साथ और अपने भाई के साथ हो रहे सारे अत्याचार की कहानी बयान करदी.

सलमा की बाते सुन पुलिस भी सदमे में आ गई. पुलिस ने आनन-फानन में सलमा के घर धाड़ मारा और उसके ज़ालिम बलात्कारी बाप को गिरफ्तार कर लिया.

सलीम मोहम्मद – बलात्कारी बाप – इस वक्त भायखला स्थित आर्थर रोड जेल में बंद है और उस पर पुलिसिया कार्यवाई जारी है.

सलीम की ज़िन्दगी तो खत्म हो ही गई लेकिन वे तीनो मासूम बच्चे आज भी हादसे में जी रहे है.

सलमा ने देर से हिम्मत की पर उसकी हिम्मत ने उसकी और उसके दोनों छोटे भाइयों की ज़िन्दगी बर्बाद होने से बचा ली. अब देर से ही भले पर कभी ना कभी सलमा के चेहरे पर दोबारा खुशी देखने का सभी को बेसब्री से इंतज़ार है.

सलमा – जिसने अपने बलात्कारी बाप को जेल में भेजा – के इस ज़ज्बे को हमारा सलाम.

हम हर बार इस तरह की सच्ची कहानी और जाबांज इंसानों से आपको मिलवाते रहेंगे.

तब तक के लिए आप होशियार रहिए और सुरक्षित रहिए…

Article Categories:
विशेष

Don't Miss! random posts ..