ENG | HINDI

इतिहास के पन्नों पर अमर ये 8 प्रेम कहानियाँ आपके दिल में प्यार का अलख जगा देंगी !

प्रेम कहानियाँ

प्रेम कहानियाँ – आज के इस दौर में युवाओं ने भले ही प्यार की परिभाषा को बदलकर रख दिया है लेकिन जब भी सच्चे प्यार का जिक्र किया जाता है तो प्यार करनेवाले लोग अक्सर हीर रांझा, सोनी महिवाल की प्रेम कहानी की दुहाई देते हैं.

अब जब बात प्यार की हो रही है तो चलिए हम आपको बताते हैं इतिहास के पन्नों पर सदा के लिए अमर हो चुकी 8 ऐसी प्रेम कहानियाँ, जो आपके दिल में प्यार का अलख जगाने के लिए काफी है.

प्रेम कहानियाँ –

1- शाहजहां और मुमताज

मुगल बादशाह शाहजहां और मुमताज की प्रेम की दास्तान से भला कौन नहीं वाकिफ है. इनके मोहब्बत की निशानी ताजमहल आज भी इनके प्रेम की कहानी को बयान करता है. शाहजहां मुमताज से इतनी मोहब्बत करते थे कि उनकी मौत के बाद उन्होंने मुमताज की याद में ताजमहल बनवा दिया.

2- पृथ्वीराज और संयुक्ता

पृथ्वीराज चौहान और संयुक्ता की प्रेम कहानी इतिहास की अमर प्रेम कहानियों में से एक है. पृथ्वीराज को अपने दुश्मन कन्नौज के राजा जयचंद की बेटी संयुक्ता से प्यार हो गया. जब दोनों के मोहब्बत की खबर जयचंद को लगी तो उसने गुस्से में संयुक्ता का स्वयंबर रचाया.

इस स्वयंबर में कई राजकुमार आए थे लेकिन संयुक्ता ने दरबार के बाहर खड़े पुतले को माला पहना दिया जिसके पीछे पहले से ही पृथ्वीराज छुपकर बैठे हुए थे. जिसके बाद भरे दरबार से सयुंक्ता को लेकर पृथ्वीराज वहां से भाग गए.

3- बिम्बिसार और आम्रपाली

बिम्बिसार और आम्रपाली की प्रेम कहानी को लोग आज भी याद करते हैं. कहा जाता है कि एक बार मगध के राजा बिम्बिसार युद्ध के दौरान घायल हो गए और वेश बदलकर वैशाली पहुंचे. जहां आम्रपाली नाम की नर्तकी ने उनकी सेवा की और बाद में बिम्बिसार ने आम्रपाली से शादी कर ली. बिम्बिसार अपनी 400 रानियों के बीच आम्रपाली को बेहद चाहते थे.

4- बाजीराव और मस्तानी

मराठा पेशवा बाजीराव और मस्तानी की प्रेम कहानी को सदियों के बाद भी लोग नहीं भूल सके हैं. मस्तानी एक मुस्लिम वीरांगना थी जो बाजीराव की दूसरी पत्नी थी. वो बाजीराव से इस कदर मोहब्बत करती थी कि बाजीराव की मौत के साथ ही उसने भी दम तोड़ दिया था.

5- सलीम और अनारकली

सलीम और अनारकली की प्रेम कहानी की दर्दभरी दास्तान इतिहास के पन्नों पर सदा के लिए अमर हो गई. अनारकली को पाने के लिए शहजादे सलीम ने अपने पिता अकबर से युद्ध भी किया लेकिन उसमें शिकस्त मिली.

अकबर ने सलीन के सामने ये शर्त रखी थी कि या तो सलीम अनारकली को उन्हें सौंप दे या फिर खुद मौत को गले लगा ले. लेकिन अनारकली ने आखिरी समय पर आकर सलीम की जान बचा ली और खुद को बादशाह अकबर के हवाले कर दिया. जिसके बाद अकबर ने अनारकली को दीवार में चुनवा दिया.

6- औरंगजेब और जैनाबाई

कहा जाता है कि मुगल शासक औरंगजेब जैनाबाई नाम की एक महिला के इश्क में गिरफ्तार हो गया था. लेकिन जैनाबाई नाचने गाने का काम करती थी इसलिए अपनी छवि और समाज के डर से औरंगजेब ने अपने प्यार को कभी जमाने के सामने नहीं आने दिया. हालांकि औरंगजेब पर लिखी एक किताब में औरंगजेब और जैनाबाई की प्रेम कहानी का विस्तार से जिक्र मिलता है.

7- सोनी और महिवाल

सोनी और महिवाल की प्रेम कहानी की लोग आज भी मिसाल देते हैं. कहा जाता है कि सोनी के पिता ने जबरन उसकी शादी किसी और से करवा दी थी. जिसके बाद उसका आशिक महिवाल उसके गांव जा पहुंचा और शादी के बाद भी दोनों एक-दूसरे से मिलते थे.

दोनों एक-दूसरे से इस कदर प्यार करते थे कि जीते जी भले ही वो एक-दूजे के ना हो सके लेकिन इस दुनिया को दोनों एक साथ छोड़कर चले गए और उनकी प्रेम कहानी हमेशा-हमेशा के लिए अमर हो गई.

8- हीर और रांझा

अमीर घराने से ताल्लुक रखनेवाली खूबसूरती की मल्लिका हीर रांझा से बेहद प्यार करती थी. लेकिन हीर के घरवालों को दोनों का ये रिश्ता नागवार गुजरा और उन्होंने जबरन हीर की शादी करा दी.

शादी के बाद भी दोनों के प्यार का सिलसिला बदस्तूर जारी रहा. रांझा हीर के प्यार में फकीर बनकर उसके गांव जा पहुंचा. लेकिन इस प्रेम कहानी का अंत भी दोनों के मौत से हुआ.

ये है प्रेम कहानियाँ – एक-दूसरे के प्रति प्यार और समर्पण भावनी ने ही इन प्रेमियों को सदा के लिए अमर कर दिया. शायद इसलिए आज भी लोग इतिहास के पन्नों पर अमर इन प्रेमियों की कसमें खाते हैं ताकि वो भी अपने प्यार की एक नई मिसाल पेश कर सकें.

Don't Miss! random posts ..