ENG | HINDI

जानिए कौन है वो शख्स जिसने उड़ा दी है दाऊद की रातों की नींद

डॅान दाऊद इब्राहिम

लोगों की नींद उड़ाने वाले डॅान दाऊद इब्राहिम की नींद इन दिनों उड़ी हुइ है.

डॅान दाऊद इब्राहिम इस कदर परेशान हो चुका है कि अपने दुश्मनों को फोन पर धमकियां दे रहा है. लेकिन उसका ये दुश्मन है कि दाऊद से डर ही नहीं रहा है.

दरअसल, दाऊद पिछले काफी लंबे समय से अपने काले धंधों के गढ़ यानी दुबई में गुटका किंग बना हुआ था. लेकिन, अब उसे उसके ही गढ़ में चुनौती मिल रही है. जब से उसको ये चुनौती मिली है तब से दाऊद बेचैन है.

दाऊद के लोग इस समय जिस शख्स को बार बार धमका रहे हैं लेकिन उस पर इसका कोई असर नहीं हो रहा है.

बल्कि डरने के बजाए उसने गुटके के अलावा दुबई में कई और धंधे शुरू कर दिए हैं. इससे दाऊद का नुकसान और बढ़ने लगा, जिसकी बौखलाहठ में अनीस इब्राहिम ने उसको जान से मारने की धमकी दे दी.

आपको बता दे कि ये दाऊद को चुनौती देने वाला शख्स कोई ओर नहीं बल्कि सफदर है. सफदर एक समय दाऊद के भाई अनीस इब्राहिम के खास दोस्त हसन के साथ मिलकर गुटके का कारोबार करता था.

लेकिन जैसा कि अक्सर जरायम की दुनिया में होता है कि जब डॅान कमजोर होता है तो उसकी बादशाहत पर कब्जे के लिए दावेदार भी खड़े हो जाते हैं.

ठीक ऐसा ही दाऊद के साथ हो रहा है. उसका शागिर्द सफदर ही अब अकेले ही इस धंधे में उभरकर उसे चुनौती दे रहा है.

इस वजह से दाऊद का गुटके का धंधा दुबई में खत्म होने की कगार पर पहुंच गया है.

आपको बता दें कि सफदर गुटके का धंधा करता है और दुबई में ही रहता है. वो भले ही दुबई में बैठकर गुटके का कारोबार कर रहा हो, लेकिन उसकी जड़ें गुजरात के जामनगर में है. वो यहीं से गुटका बनाकर दुबई में सप्लाई करता है.

सफदर का गुटका दुबई में इस कदर मशहूर हो चुका है कि अब दाऊद की कंपनी से बना गुटका लोग नहीं खरीद रहे हैं. इस बात से परेशान होकर दाऊद ने सफदर को वापस अपने गुटके के धंधे में शामिल होने को कहा.

डॅान दाऊद इब्राहिम के भाई अनीस ने उसे धमकी दी कि वो हसन के साथ दोबारा काम शुरु करे, लेकिन सफदर इसके लिए राजी नहीं हुआ.

डॅान दाऊद इब्राहिम की बात न मानने पर सफदर को डी कंपनी के लोग लगातार फोन पर धमकी देने लगे. गुटके के धंधे को लेकर दाऊद और सफदर की खुलकर दुश्मनी हो गई.

दाऊद ने सफदर को सबक सिखाने के लिए अनीस इब्राहिम को जिम्मेदारी सौंपी क्योंकि दुबई में दाऊद के गुटके का कारोबार संभालने वाला हसन, अनीस इब्राहिम का भी दोस्त है.

इस धमकी के बाद सफदर ने दुबई में ही बैठकर सीबीआई को एक ईमेल किया. इस ईमेल में उसने बताया कि उसे अनीस इब्राहिम के नंबर से लगातार धमकियां आ रही हैं. इसके साथ ही सफदर ने गुहार लगाई कि भारतीय एजेंसियां नंबर की जांच करें.

इसके बाद दाऊद बैकफुट पर आ गया है. उसको लगता है कि अगर उसने ऐसा कुछ किया तो वह फंस सकता है. यही वजह है कि दाऊद अब सफदर को डराने के लिए सीधे न आकर अपने अन्य तरीकों को अपना रहा है.

Don't Miss! random posts ..