ENG | HINDI

अगर यहाँ जा रहे हैं तो अपना स्मार्टफोन घर छोड़कर जाइए ! कहीं ऐसा न हो…

स्मार्टफोन

अगर आप अमेरिका घूमने जा रहे हैं तो अपना स्मार्टफोन घर पर ही छोड़कर जाएं.

कहीं ऐसा न हो अमेरिका में आपका स्मार्टफोन आप से लेकर उसका सारा डाटा अमेरिका अपने पास रख ले.

इस बात का खुलासा किया है अमेरिका के एक ब्लॉगर ने किया है. यह खबर इन दिनों को अमेरिका के सोशल नेटवर्किंग साइट पर खूब सरक्यूलेट हो रही है.

बतातें चले कि ब्लागर क्विंसी लार्सन जो एक साफ्टवेयर इंजीनियर हैं, ने बताया है कि बाहर से आने वाले ही नहीं बल्कि अमेरिका से बाहर जाने वाले लोगों के फोनों का डाटा भी जाचं के बहाने निकाला जा रहा है.

गौरतलब है कि भारतीय मूल के अमरीकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा के इंजीनियर सिद बीकन्नवर ने भी इस बात को समर्थन किया है. उन्होंने पिछले महीने चिली की यात्रा की थी. उनके मुताबिक, जब वो वापस आए तो ह्यूस्टन में सीमा शुल्क के अधिकारियों ने उन्हें हिरासत में ले लिया. उन पर उनके स्मार्टफोन का पासवर्ड देने का दबाव डाला गया. ऐसा यह जानने के बाद भी किया गया कि ये फोन नासा का दिया हुआ है.

कुछ लोग अमेरिका के इस कदम का विरोध कर रहे हैं. उनका मानना है कि अधिकारी लोगों को पकड़ उनसे पूरे डिजिटल डाटा को सौंपने के लिए दबाव डाल रहे हैं, यह बहुत ही खतरनाक है.

यही नहीं आंतरिक सुरक्षा के नए मंत्री जॉन केली ने वीजा आवेदकों को अपने सोशल मीडिया अकाउंट के पासवर्ड सौंपने की बात कही है. जबकि रिपब्लिकन सांसद ने ट्विटर पर वीजा आवेदकों के सोशल मीडिया समीक्षा को जरूरी बनाने वाला पहला विधेयक पेश किए जाने का एलान किया.

जानकारों का अनुमान है कि न केवल अमरीका बल्कि पूरी दुनिया में यात्रियों को उनके फोन के डाटा को डाउनलोड करने का नियम जल्द ही लागू किया जा सकता है.

इसलिए अमेरिका के लोग जब देश के बाहर जाएं या दुनिया के बाकी देशों के लोग अपने देश से अमेरिका आए तो अपना फोन और लैपटॉप घर पर ही छोड़कर जाएं. नहीं तो उनको सारा गोपनीय डाटा अमेरिका के हाथ लग सकता है.

हालांकि अमेरिका वीजा यात्रा चेतावनियों में अभी यह विषय शामिल नहीं है.

Article Categories:
राजनीति

Don't Miss! random posts ..